नेटो आपूर्ति: अमरीका का प्रगति का दावा, पाक में बैठक

  • 15 मई 2012
नेटो के वाहन इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption पिछले साल नवंबर में हुए हमले के बाद पाक ने नेटो सेना के लिए आपूर्ति पर रोक लगा दी थी

अमरीका ने कहा है कि पाकिस्तान के रास्ते अफगानिस्तान में मौजूद नेटो सेना के लिए सामान की आपूर्ति बहाल करने के लिए पाकिस्तान से बातचीत में काफी प्रगति हुई है.

अमरीकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता विक्टोरिया नूलैंड ने पत्रकार वार्ता के दौरान एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि अमरीका नेटो सेना के लिए सामान की आपूर्ति के मुद्दे पर कड़ी महनत कर रहा है लेकिन अभी तक दोनों पक्ष अंतिम निर्णय तक नहीं पहुँचे हैं.

उन्होंने कहा, “हमारी टीम अब भी पाकिस्तान में मौजूद है और नेटो आपूर्ति के मुद्दे पर पाकिस्तानी अधिकारियों से बातचीत कर रही है. मुझे लगता है कि इस मामले पर उन्होंने काफी प्रगति की है लेकिन वह अब भी काम कर रहे हैं.”

इस मुद्दे पर पाकिस्तान के केंद्रीय मंत्रिमंडल की रक्षा समिति की मंगलवार को अहम बैठक हो रही है जिसमें इस रोक को हटाने की संभावना जताई जा रही है.

हमले पर अमरीकी माफी

जब उनसे पाकिस्तानी फौजी चौकी पर किए गए नेटो सेना के हमले पर अमरीका की ओर से माफी मांगने पर सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा कि जब हमला हुआ था तो अमरीका उसमें अफसोस प्रकट किया था और दोनों देश आगे बढ़ना चाहते हैं और मिल कर काम करना चाहते हैं.

ग़ौरतलब है कि पिछले साल नवंबर में नेटो हैलिकॉप्टरों ने कबायली इलाके मोहमंद ऐजंसी में पाकिस्तानी सैन्य चौकी पर हमला किया था, जिसमें 24 सैनिक मारे गए थे.

उसके बाद पाकिस्तानी सरकार ने अफगानिस्तान में मौजूद नेटो सेना के लिए खाद्य और अन्य सामग्री की आपूर्ति पर रोक लगा दी थी और उसके बाद पाकिस्तान और अमरीका संबंध काफी तनावपूर्ण हो गए थे.

अमरीका और अन्य पश्चमि देशों की ओर से पाकिस्तान पर लगातार दबाव बढ़ाया जा रहा है कि वह नेटो सेना के लिए सामान और अन्य सामग्री पर रोक को हटा दें.

पाकिस्तान में अहम बैठक

इस मुद्दे पर पाकिस्तान के केंद्रीय मंत्रिमंडल की रक्षा समिति की बैठक प्रधानमंत्री यूसुफ रज़ा गिलानी की अध्यक्षता में हो रही है, जिसमें सेनाध्यक्ष जनरल अशफाक परवेज कियानी, विदेश मंत्री हिना रब्बानी खर सहित कुछ वरिष्ठ मंत्री भाग ले रहे हैं.

विदेश मंत्री हिना रब्बानी खर ने सोमवार को एक पत्रकार वार्ता में बताया था कि छह महीने तक नेटो को सामान की आपूर्ति बंद करने के बाद अब इसमें ढील देने का वक्त आ गया है.

उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान अफगानिस्तान और वहाँ मौजूद अन्य देशों के लिए कठिनाईयाँ खड़ी करने वाला नहीं बल्कि सहज बनने वाला देश बनना चाहता है.

उन्होंने पत्रकारों को यह भी बताया था कि नेटो सेना के लिए सामान और अन्य सामग्री की आपूर्ति पर लगी रोक को हटाने के लिए अमरीका से सकारात्मक दिशा में बातचीत हो रही है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार