ऑपरेशन ओसामा: डॉक्टर के बचाव में उतरे मानवाधिकार कार्यकर्ता

  • 26 मई 2012
डॉक्टर शकील आफरीदी इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption डॉक्टर आफरीदी को सज़ा के खिलाफ़ अमरीका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली सहायता में 3.3 करोड़ डॉलर की कटौती की है

पाकिस्तान के मानव अधिकार कार्यकर्ताओं ने ओसामा बिन लादेन की पहचान करने की प्रक्रिया में मदद करने वाले पाकिस्तानी डॉक्टर को 33 साल की जेल की सजा सुनाए जाने को कानून के खिलाफ़ बताया है.

मानव अधिकार कार्यकर्ताओं का कहना है कि इस मामले में पाकिस्तानी संविधान के तहत बनाए गए सामान्य कानूनों का इस्तेमाल नहीं किया गया.

पाकिस्तान के कबायली इलाकों में जारी पारंपरिक अदालतों के नियमों के तहत डॉक्टर शकील आफरीदी को ओसामा बिन लादेन को पकड़वाने में अमरीकी खुफिया एजेंसी सीआईए की मदद करने के कारण 33 साल जेल की सज़ा सुनाई गई है.

गलत मुकदमा

शुक्रवार को जारी एक वक्तव्य में एक गैर सरकारी संस्था पाकिस्तान राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ने कहा है कि 'देश की सुरक्षा के बारे में चिंतित होना एक बात है, लेकिन इस वजह से आप किसी को उसके कानूनी अधिकारों से वंचित नहीं कर सकते.'

आयोग ने इस बात की भी निंदा की है कि आफरीदी पर मुकदमा पेशावर की अदालत में चलाया गया जबकि उसका तथाकथित जुर्म एबटाबाद में हुआ.

डॉक्टर शकील आफरीदी पर मुकदमा चलाते वक़्त इस विशेष आधिकारिक अदालत ने मनचाही कानूनी सलाह भी नहीं लेने दी.

मानव अधिकार आयोग ने डॉक्ट रआफरीदी पर देशद्रोह का मुकदमा चलाने पर भी सवालिया निशान लगाया है. आयोग ने कहा, "आफरीदी का यह कदम सरकार की चरमपंथ से गंभीरता से हर स्तर पर लड़ने की नीति के कारण उठाया गया हो सकता है."

आयोग ने कहा, "इस बात से कोई फ़र्क नहीं पड़ता कि डॉक्टर आफरीदी के ऊपर किन प्रावधानों के तहत आरोप लगाती है लेकिन किसी भी कारण से उन्हें उनके मौलिक अधिकारों से वंचित नहीं किया जा सकता."

अपील होगी

आयोग ने पाकिस्तान सरकार से अपील की है कि हर हाल में यह तय करे कि आफरीदी पाकिस्तान के कानून में मौजूद तमाम अधिकारों का इस्तेमाल कर सकें.

इस बीच पाकिस्तान के जिस इलाके की अदालत में आफरीदी को सज़ा सुनाई गई हैं वहां के स्थानीय वकीलों ने इसके खिलाफ़ ऊपरी अदालतों में मुकदमा लड़ने की बात कही है.

पाकिस्तानी अखबार द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने डॉक्टर आफरीदी के रिश्तेदार और स्थानीय वकीलों के संघ के सदस्य कमर नदीम आफरीदी के हवाले से कहा है कि वो जल्द ही डॉक्टर अफरीदी को सज़ा सुनाए जाने को कानूनी चुनौती देंगे.

संबंधित समाचार