पाक वैज्ञानिक एक्यू खान की सियासी पार्टी?

 मंगलवार, 28 अगस्त, 2012 को 12:00 IST तक के समाचार
फ़ेसबुक पर एक्यू ख़ान के समर्थकों का पन्ना

एकक्यू ख़ान की कथित पार्टी के समर्थन में फ़ेसबुक पर ये पेज सामने आया है.

पाकिस्तान से ऐसी ख़बरें आ रही हैं कि वहां के परमाणु कार्यक्रम के जनक कहे जाने वाले विवादस्पद वैज्ञानिक अब्दुल क़दीर ख़ान एक राजनीतिक पार्टी बना रहे हैं.

बीबीसी के हारून रशीद के अनुसार पाकिस्तान के एक समाचार पत्र में ये समाचार छपा और साथ ही फ़ेसबुक पर भी इस पार्टी के बारे में एक पेज सामने आया है.

अब्दुल क़दीर ख़ान पर एटमी बम बनाने की तकनीक बेचने के आरोप पश्चिमी मुल्कों की तरफ़ से लगते रहे हैं. इन आरोपों के कारण वे पाकिस्तान में नज़रबंद भी रहे हैं और अब भी उनपर देश के भीतर घूमने-फिरने पर कई बाधाएं लगी हुई हैं. डॉक्टर ख़ान हमेशा इन आरोपों का खंडन करते रहे हैं.

लेकिन फ़िलहाल एक्यू ख़ान की तरफ़ से इस के बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है.

फ़ेसबुक पर सामने आए पेज पर कुछ लोगों ने दावा किया है कि ख़ान की पार्टी का नाम 'तहरीके तहफ़ुज़े पाकिस्तान' है.

अमरीका का दबाव

"परमाणु तकनीक बेचने के आरोप अब भी मौजूद भी हैं. अभी तक अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इससे संबंधित कई प्रश्नों के उत्तर का इंतज़ार है. अमरीका आज तक पाकिस्तान से अनुरोध कर रहा है कि डॉ. ख़ान को उनके हवाले किया जाए ताकि वो जांच कर सकें. पाकिस्तान इसका विरोध करता रहा है."

हारुन रशीद, बीबीसी संवाददाता, इस्लामाबाद से

फ़ेसबुक के पन्ने पर पार्टी का उद्देश्य नौजवानों को ये बताना है कि पहले से अज़माए सियासी दलों को आने वाले चुनावों में समर्थन ना दिया जाए.

हारून रशीद कहते हैं, “परमाणु तकनीक बेचने के आरोप अब भी मौजूद भी हैं. अभी तक अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इससे संबंधित कई प्रश्नों के उत्तर का इंतज़ार है. अमरीका आज तक पाकिस्तान से अनुरोध कर रहा है कि डॉ. ख़ान को उनके हवाले किया जाए ताकि वो जांच कर सकें. पाकिस्तान इसका विरोध करता रहा है.”

बीबीसी उर्दू के हारुन रशीद के मुताबिक डॉ ख़ान पर अब भी कुछ पाबंदियां लगी हुई हैं जो उनके घूमने-फिरने को बाधित करती हैं. और ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि वो कैसे पूरे मुल्क में घूमकर अपनी सियासी जमात के लिए समर्थन जुटाएंगे.

डॉ. ख़ान पाकिस्तानी अख़बारों में कॉलम लिखते हैं और कभी-कभार मीडिया को इंटरव्यू भी दे देते हैं लेकिन इससे अधिक करने की उनको कम ही अनुमति मिलती है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.