कौन हैं 'कत्ल पर इनाम' की घोषणा वाले पाक मंत्री

 सोमवार, 24 सितंबर, 2012 को 15:18 IST तक के समाचार

पाकिस्तान के रेल मंत्री गुलाम अहमद बिलौर आवामी नेशनल पार्टी के सदस्य हैं.

इस्लाम का कथित अपमान करने वाली फ़िल्म बनाने वाले के कत्ल पर इन्होंने इनाम देने की घोषणा की है.

नेशनल अवामी पार्टी कट्टरपंथियों की विरोधी रही है और गत वर्षों में इस पार्टी पर तालिबान और अल कायदा के हमले होते रहे हैं.

गुलाम अहमद बिलौर का ये बयान पार्टी की लाइन से हटकर है. नेशनल अवामी पार्टी ने भी इस बयान से किनारा कर लिया है.

टेलिग्राफ अख़बार में छपी खबर के अनुसार गुलाम बिलौर के विरोधियों का आरोप है कि उन्होंने ये बयान इसलिए दिया ताकि पेशावर में उनके पारिवारिक व्यापार पर चरमपथी हमलों को टाला जा सके.

पेशावर में हुए प्रदर्शनों के दौरान इनके एक सिनेमाघर में प्रदर्शनकारियों ने आग लगा दी थी.

गौरतलब है कि गुलाम बिलौर इस्लामी चरमपंथ के विरोधी रहे हैं और अफगानिस्तान में नेटो सेनाओं के हस्तक्षेप का समर्थन करते रहे हैं.

गुलाम बिलौर के परिवार की पेशावर में आटा मिल हैं और सिनेमाघर हैं. इसके अलावा उनकी पाकिस्तान, लंदन और दुबई में सम्पत्ति है. रेल मंत्री बनने से पहले भी वो तीन बार केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं.

ये पाकिस्तान के पेशावर इलाके से आते हैं. इनका परिवार पेशावर का एक रईस व्यापारिक पारिवार माना जाता है.

1970 में वो नेशनल आवामी पार्टी से जुडे और तब से इसी पार्टी से जुड़े हुए हैं.

गुलाम अहमद बिलौर को पख्तून इलाके के गैर हिंसक पख्तून नेता बाचा खान का करीबी माना जाता है.

चार भाइयों में सबसे बडे अहमद बिलौर को आवामी नेशनल पार्टी के अगले अक्ष्यक्ष बनने की रेस में सबसे आगे माना जा रहा है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.