BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
शुक्रवार, 23 मार्च, 2007 को 10:21 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
बांग्लादेश में बर्ड फ़्लू की दस्तक
 
फाइल फोटो
बांग्लादेश में बड़ी संख्या में लोग मुर्गियों को घरों में पालते हैं
बांग्लादेश की राजधानी ढाका के निकट सावर कस्बे में मुर्गियों में बर्ड फ़्लू का घातक एच5एन1 वायरस पाया गया है. हज़ारों की संख्या में मुर्गियों को मार दिया गया है.

सावर से 10 किलोमीटर के दायरे में मुर्गी-फ़ार्मों से मुर्गियों के लाने और ले जाने पर रोक लगा दी गई है.

बांग्लादेश के सूचना मंत्रालय ने गुरुवार को जारी एक बयान में कहा, "ढाका से 25 किलोमीटर दूर सावर में बर्ड फ़्लू संक्रमण के ताज़ा मामले का पता चला है."

पिछले साल पाकिस्तान, भारत और अफ़ग़ानिस्तान में बर्ड फ़्लू के विषाणु मिले थे.

एच5एन1 विषाणु से व्यक्ति बीमार हो जाता है और उसकी मौत भी हो सकती है, लेकिन वैज्ञानिकों का कहना है कि इससे मानवों के संक्रमित होने की संभावना फ़िलहाल बहुत कम है.

चिंता

 ढाका से 25 किलोमीटर दूर सावर में बर्ड फ़्लू संक्रमण के ताज़ा मामले का पता चला है
 
सूचना मंत्रालय

बांग्लादेश की सरकार ने कहा है कि घबराने की ज़रूरत नहीं है. सरकार ने लोगों को सलाह दी है कि वे अंडे और मुर्गी के मांस का सेवन आम दिनों की तरह पकाकर कर सकते हैं.

दक्षिण एशियाई देशों में बर्ड फ़्लू के संक्रमण से इसके बांग्लादेश में फ़ैलने का ख़तरा रहा है.

बांग्लादेश की सरकार ने इसे देश में फ़ैलने से रोकने के लिए एहतियातन कई क़दम उठाए हैं और दर्जनों देशों से मुर्गियों के आयात पर रोक लगाई है.

बीबीसी संवाददाता जॉन सडवर्थ का कहना है कि बांग्लादेश सरकार जहाँ बर्ड फ़्लू संक्रमण को रोकने के लिए तकनीक दक्षता पर ज़ोर दे रही है, वहीँ बांग्लादेश में बर्ड फ़्लू के इस मामले से कई विशेषज्ञ चिंतित हैं.

बांग्लादेश में बड़ी संख्या में लोग घरों में मुर्गियाँ और अन्य पक्षी पालते हैं और यह दुनिया के सबसे घनी आबादी वाले देशों में शामिल है.

 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
'मानव संक्रमण का अब तक मामला नहीं'
23 फ़रवरी, 2006 | भारत और पड़ोस
पोल्ट्री उद्योग को आर्थिक नुकसान
21 फ़रवरी, 2006 | भारत और पड़ोस
भारत में बर्ड फ्लू का पहला मामला
18 फ़रवरी, 2006 | भारत और पड़ोस
'बर्ड फ़्लू से किसी आदमी की मौत नहीं'
19 फ़रवरी, 2006 | भारत और पड़ोस
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>