BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
मंगलवार, 26 अगस्त, 2008 को 20:59 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
कंधमाल में हिंदू-ईसाई गुटों में झड़प
 

 
 
उड़ीसा में हिंसा
विहिप के बंद के दौरान ईसाइयों और चर्चों को निशाना बनाया गया
उड़ीसा में कंधमाल ज़िले में मंगलवार को हिंदू और ईसाई गुटों के बीच हथियारबंद झड़पों में चार लोगों की मौत हो गई जिसके साथ ही शनिवार से चल रही सांप्रदायिक हिंसा में अब तक आठ लोग मारे जा चुके हैं.

आठ में से सात लोग तो कंधमाल ज़िले में ही मारे गए हैं जिसमें चार लोगों की मौत ज़िले के बाराखामा गांव में हुई.

इस गांव में हिंदू और ईसाई गुटों ने हथियारों के साथ एक दूसरे पर हमला किया जिसमें ये मौतें हुई हैं.

उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के अनुसार घटनास्थल पर चार लाशें मिली हैं लेकिन मरने वालों की पहचान नहीं हो पाई है.

विधानसभा में इस घटना के बाद बयान देते हुए उन्होंने कहा कि घटना के समय गांव में पुलिस की एक छोटी टुकड़ी मौजूद थी जिसने घटना को रोकने के हरसंभव प्रयास किए. अब इलाक़े में और पुलिस बल भेज दिया गया है.

मुख्यमंत्री ने मारे गए लोगों के संबंधियों को दो दो लाख रुपए देने की घोषणा की है.

इससे पहले मंगलवार को दिन भर हुई हिंसा में भी कुछ लोग मारे गए.

कंधमाल के आसपास शनिवार के बाद उस समय हिंसा शुरु हुई जब विश्व हिंदू परिषद के नेता स्वामी लक्ष्मणानंद सरस्वती की अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी.

इसके विरोध में सोमवार को आयोजित विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के राज्यव्यापी बंद के दौरान हुई हिंसा में ईसाइयों को निशाना बनाया गया था और कई चर्चों में आग लगा दी गई थी.

विहिप के नेता स्वामी लक्ष्मणानंद की हत्या शनिवार की रात को अज्ञात बंदूकधारियों ने कर दी थी जिसके बाद परिषद ने सोमवार को उड़ीसा बंद का आह्वान किया था.

शनिवार से ही कंधमाल ज़िले में हिंसक गतिविधियाँ और तोड़फोड़ जारी है.

उड़ीसा का कंधमाल ज़िला इससे सबसे अधिक प्रभावित हुआ है और ज़िले के कई स्थानों पर कर्फ़्यू लगा दिया गया है.

 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
अनाथाश्रम पर हमले में महिला की मौत
25 अगस्त, 2008 | भारत और पड़ोस
उड़ीसा में बंद का व्यापक असर
25 अगस्त, 2008 | भारत और पड़ोस
'हिंसा में ईसाई भी शामिल थे'
06 जनवरी, 2008 | भारत और पड़ोस
इंटरनेट लिंक्स
बीबीसी बाहरी वेबसाइट की विषय सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है.
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>