गूगल को चुगली करने से कैसे रोकें

  • 14 नवंबर 2016
इमेज कॉपीरइट Getty Images

दोस्तों और परिवार से बेहतर अगर आपको कोई जानता है तो वो है गूगल.

गूगल के किसी भी प्रोडक्ट को इस्तेमाल कीजिये उसके बारे में जानकारी आपके प्रोफाइल से जुड़ी होती है. इसलिए इंटरनेट पर आपके बारे में ढेर सारी जानकारी गूगल के पास होती है.

इतनी सारी जानकारी रखने के बाद गूगल आपको ये भी विकल्प देता है कि अपने बारे में जानकारी को रखना चाहें तो रखें वरना उसे डिलीट भी कर सकते हैं. आपके बारे में जो भी डाटा जुटाया जाता है उसे गूगल आपके लिए नए प्रोडक्ट बनाने के काम में भी लाता है.

गूगल अकाउंट पर लॉग-इन करने के बाद इसमें गूगल हिस्ट्री को ढूंढ़िए. यहां पर जो विकल्प दिखाई देंगे उनमें से चुन कर आप किसी के बारे में काफी जानकारी पता कर सकते हैं.

अगर गूगल मैप की हिस्ट्री देखेंगे तो आपको ये पता चल जाएगा कि आप कब कब कहां कहां गए.

अगर इस हिस्ट्री को डिलीट करना है तो बस यह याद रखना होगा कि सभी विकल्पों के बारे में ऑनलाइन जानकारी को एक एक करके डिलीट करना होगा. वैसे एक बार में सभी कुछ डिलीट करना संभव नहीं है.

कई लोग गूगल पर अपनी हिस्ट्री और जानकारी कुछ समय के बाद मिटाना चाहते हैं और वो करना भी बहुत आसान है. अगर आप चाहें तो ये हिस्ट्री गूगल के पास स्टोर भी नहीं होगा.

आइए ऐसा करने का तरीका बताते हैं.

किसी भी ब्राउज़र की मदद से अपने गूगल अकाउंट पर लॉग इन कीजिये. जिस तरह के डेटा को डिसएबल करना चाहते हैं उसे चुन लीजिये.

स्क्रीन के दाहिनी तरफ ऊपर में जो तीन बिंदु वाले बटन है उस पर क्लिक कीजिये और उसके बाद डिलीट पर क्लिक कर दीजिये.

सभी प्रोडक्ट या सर्विस की हिस्ट्री को अलग अलग डिलीट करना पड़ेगा इसलिए इस पूरी प्रक्रिया को बार बार उन सभी प्रोडक्ट या सर्विस के लिए दोहराइए.

इमेज कॉपीरइट AP

याद रखें कि हिस्ट्री डिलीट करने के बाद ऐसा नहीं है कि गूगल आपके बारे में जानकारी नहीं रख सकेगा.

अगर आपके पास गूगल अकाउंट है और यूट्यूब और गूगल की दूसरी सर्विस इस्तेमाल करते हैं तो गूगल को आपके बारे में जानकारी मिलती रहेगी.

हां, अगर आप चाहें तो अपने गूगल या जीमेल अकाउंट को डिलीट भी कर सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए