'बस 10 मिनट में पहुंचा' वाला बहाना अब नहीं चलने देगा व्हाट्सऐप

  • 19 अक्तूबर 2017
वॉट्सऐप, फ़ेसबुक, लोकेशन, फ़ीचर, सोशल मीडिया इमेज कॉपीरइट AFP

आपका मोबाइल बजता है, आप अलसाते हुए फ़ोन उठाते हैं. व्हाट्सऐप पर दोस्त का मेसेज है,''भाई! कहां पहुंचा?'' आप जवाब देते हैं, ''बस...रास्ते में हूं. 20 मिनट में पहुंच जाऊंगा.'' इसके बाद आप फ़ोन किनारे रखकर फिर सो जाते हैं.

अगर आपकी भी कुछ ऐसी ही आदत है तो ये ज़रा संभल जाइए. क्योंकि ये बहानेबाजी अब ज़्यादा नहीं चलेगी.

इमेज कॉपीरइट AFP

वॉट्सऐप एक नया फ़ीचर ला रहा है जिससे आपके पता चलेगा कि आप वाकई किसी तय जगह के पास हैं या नहीं. यह फ़ीचर आपके फ़ोन में मौजूद कॉन्टैक्ट्स को मैप से सिंक करने और उनकी रियल टाइम मूवमेंट को देखने की सुविधा देता है.

न्यूड तस्वीरें क्यों भेज रही हैं लड़कियां?

ये फ़ीचर यूज़र की सुरक्षा के लिए भी बेहतर साबित होगा. किसी मुश्किल में पड़ने पर आपके क़रीबी इसके जरिए आपकी लोकेशन का पता लगा सकते हैं. अच्छी बात ये है कि लोकेशन सबके साथ शेयर नहीं होगी.

इमेज कॉपीरइट WhatsApp

वॉट्सऐप ने एक बयान में बताया,''यह फ़ीचर एंड-टु-एंड एनक्रिप्शन से लैस है. इससे आप तय कर सकते हैं कि आपके किसके साथ अपनी लोकेशन शेयर करनी है और कितनी देर के लिए.''

'वॉट्सऐप की वजह से आत्महत्या'

इस फ़ीचर का इस्तेमाल करने के लिए आपको व्हाट्सऐप में कोई पर्सनल या ग्रुप चैट खोलना होगा. इसके बाद आपको 'अटैच क्लिप' वाली क्लिप पर जाकर 'लोकेशन' का विकल्प चुनना होगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

फिर आपको 'रियल-टाइम लोकेशन' सेलेक्ट करना होगा. इससे आपकी लोकेशन चुने गए कॉन्टैक्ट के साथ शेयर हो जाएगी.

कंपनी ने इस बारे में मंगलवार को सार्वजनिक तौर पर ऐलान किया. फ़िलहाल यह टेस्टिंग फ़ेज में है और आने वाले कुछ हफ़्तों के भीतर एंड्रॉयड और आईफ़ोन दोनों के लिए उपलब्ध होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे