भारतीय डॉक्टरों ने अलग किया दुनिया का 'सबसे बड़ा ब्रेन ट्यूमर'

  • 22 फरवरी 2018
संतलाल पाल
Image caption इस ब्रेन ट्यूमर की वजह से संतलाल पाल ने अपनी आंखों की रोशनी गंवा दी थी

भारत में डॉक्टरों ने एक व्यक्ति के शरीर से ऐसा ब्रेन ट्यूमर अलग किया है जिसका वजन 1.8 किलो था.

माना जा रहा है कि ये दुनिया का सबसे बड़ा ब्रेन ट्यूमर हो सकता है. मुंबई के नायर हॉस्पिटल में 14 फ़रवरी को हुआ ये ऑपरेशन सात घंटों तक चला.

हालांकि अभी तक डॉक्टरों ने ऑपरेशन प्रोसीजर के बारे में जानकारी सार्वजनिक नहीं की है क्योंकि अभी तक सर्जरी की सफलता को लेकर निश्चिंत नहीं हैं.

हॉस्पिटल के न्यूरोसर्जरी विभाग के चीफ़ डॉक्टर त्रिमूर्ति नाडकर्णी ने बीबीसी को बताया, 'वे ख़तरे से बाहर हैं, लेकिन उनकी हालत में सुधार का इंतज़ार किया जा रहा है.'

उत्तर प्रदेश के रहने वाले संतलाल पाल दुकान चलाते हैं और पिछले तीन साल से इस ट्यूमर के साथ जी रहे थे.

इमेज कॉपीरइट ZEPHYR/SCIENCE PHOTO LIBRARY

क्रिटिकल मामले

डॉक्टरों ने बताया कि संतलाल पाल ने इस ट्यूमर की वजह से अपनी आंखों की रोशनी गंवा दी थी.

लेकिन डॉक्टरों को उम्मीद है कि हालत में सुधार होने के साथ-साथ उनकी आंखों की रोशनी में भी सुधार होगा.

संतलाल की पत्नी ने हिंदू अख़बार को बताया कि उत्तर प्रदेश के कम से कम तीन अस्पतालों ने उन्हें ये कहा था कि इस ट्यूमर का इलाज नहीं किया जा सकता है.

डॉक्टर नाडकर्णी बताते हैं कि ऐसे मामले क्रिटिकल होते हैं. संतलाल के ऑपरेशन में 11 यूनिट्स ब्लड की ज़रूरत पड़ी थी. फ़िलहाल उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक औरट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे