..तो दस साल पहले होगा मौत से सामना

धूम्रपान
Image caption धूम्रपान से आयु घट सकती है

एक शोध के मुताबिक अगर आप उच्च रक्तचाप और बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल से जूझने के बावजूद सिगरेट पीते हैं तो आपकी आयु दस साल घट सकती है.

ब्रिटेन में हुए एक शोध में 19 हज़ार नौकरशाहों पर नज़र रखी गई जिनकी उम्र 40 से 69 साल के बीच थी और ये देखा गया कि 38 वर्षों के बाद उनका स्वास्थ्य कैसा है.

ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित शोध के मुताबिक उक्त रक्तचाप और कॉलेस्ट्रॉल होते हुए सिगरेट पीने की लत के कारण मौत स्वस्थ लोगों की तुलना में दस साल पहले ही दस्तक दे सकती है.

1967 -70 में इस शोध की शुरुआत तब हुई थी जब ब्रिटेन में ह्रदय रोग एक महामारी की तरह फैला था.

जिन 19 हज़ार लोगों पर शोध किया गया है, उनकी जांच जब 40 साल बाद हुई तब पता चला कि उनमें से 13 हज़ार पाँच सौ लोगों की मौत हो चुकी है.

ब्रिटिश हर्ट फाउंडेशन का कहना है कि 40 से ऊपर की उम्र वाले पुरुषों को अपने ह्रदय की जाँच करानी चाहिए.

ख़तरे क्या हैं

ऑक्सफ़ोर्ड विश्विद्यालय के शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन में ख़तरे के पैमाने के तौर पर सिगरेट पीने, उच्च रक्त चाप और कोलेस्ट्रॉल पर ज़ोर दिया क्योंकि दिल की बीमारी के लिए ये ही ख़तरनाक माने जाते हैं.

इसके बाद ख़तरों के पैमाने को बढ़ाया गया और उसमें मोटापे, मधुमेह और रोज़गार के स्तर को शामिल किया गया. इसके बाद पांच प्रतिशत ऐसे लोग, जिनमे ख़तरे के पैमाने सबसे ज़्यादा थे, और पांच प्रतिशत वो, जिनमे ख़तरे के पैमाने कम थे के बीच तुलना की गई.

इसमें पाया गया कि दोनों के बीच की औसत उम्र में 15 सालों का फ़र्क था.

ऑक्सफोर्ड विश्विद्यालय के डॉक्टर रॉबर्ट क्लार्क ने इस शोध का नेतृत्व किया है. उनका कहना है कि " हमने दिखाया है कि एक व्यक्ति,जो पचास साल का है, और जो सिगरेट पीता है, जिसे उच्च रक्त चाप है और कोलेस्ट्रॉल भी बढा हुआ है, वो 74 साल तक जिंदा रहने की उम्मीद कर सकता है जबकि वो लोग जिनमें अभी बताए गए ख़तरे के कोई भी पैमाने मौजूद नहीं हैं, उनकी उम्र 83 साल तक की हो सकती है."

रॉबर्ट क्लार्क का कहना है कि "अगर आप सिगरेट पीना छोड़ देते हैं और उच्च रक्त चाप और बढ़े हुए वज़न पर संयम रखने कि कोशिश करते हैं तो आप लंबी उम्र कि उम्मीद कर सकते हैं."

संबंधित समाचार