सिडनी शहर लाल हुआ

ऑस्ट्रेलिया का सबसे बड़ा शहर सिडनी बुधवार को लाल रंग की धूल में लिपटा रहा. ये धूल मरुस्थलों से उड़ कर आई है.

शहर में चीज़ें साफ़ तरीके से दिखाई नहीं दे रही और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें प्रभावित हुई हैं. बंदरगाहों के कामकाज पर भी असर पड़ा है.

सिडनी की मशहूर इमारतें (जैसे ऑपरा हाउस) को ठीक तरीके से देखा नहीं जा सकता और बहुत से लोग मास्क लगाकर घूम रहे हैं.

कई लोगों ने इमरजेंसी फ़ोनकॉल किए हैं कि उन्हें सांस लेने में तकलीफ़ हो रही है. बच्चों और बूढ़ों को घरों में ही रहने की सलाह दी गई है.

न्यू साउथ वेल्स प्रांत के सूखे प्रभावित इलाक़ों से आ रही हवाएँ अपने साथ मिट्टी ला रही हैं और इसी कारण धूल भरी आँधी आ रही है.

आँधी

सिडनी के एक नागरिक ने एपी के बताया, "धूल का रंग एकदम अनोखा था. मैं 72 साल का हूँ और मैने ऐसा कभी नहीं देखा."

ऑस्ट्रेलियन ब्यूरो ऑफ़ मेट्रोलॉजी ने कहा है कि सिडनी में तेज़ हवाएँ चल सकती हैं ( 65 किलोमीटर प्रति घंटा).

बीबीसी के फ़िल मर्सर का कहना है कि ऑस्ट्रेलिया में पिछले 24 घंटे काफ़ी मुश्किल भरे रहे हैं. इस दौरान कई जगह तूफ़ान और भूकंप आया और कई जगह आग लग गई.

न्यू साउथ वेल्स में आए तूफ़ान से कई इमारतों के शीशे टूट गए और लोग अपने-अपने घरों से भाग गए.

क्वींसलैंड में अधिकारियों ने खुली जगहों पर आग लगाकर बैठने पर रोक लगा दी है. मंगलवार को विक्टोरिया में दो बार भूकंप के झटके महसूस किए गए. भारी बारिश के कारण बाढ़ की चेतावनी दी गई है.

संबंधित समाचार