डिस्कवरी अंतरिक्ष केंद्र से जुड़ा

  • 7 अप्रैल 2010
नाओको यमाज़ाकी
Image caption नाओको यमाज़ाकी को मम एस्ट्रोनॉट के रूप में प्रसिद्धि मिल रही है

अमरीकी अंतरिक्ष शटल डिस्कवरी धरती से 344 किलोमीटर ऊपर अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र से जुड़ गया है. शटल सोमवार को फ़्लोरिडा से रवाना हुआ था.

डिस्कवरी के इस 13 दिनों के मिशन पर सात अंतरिक्ष यात्री साथ गए हैं. अंतरिक्ष केंद्र पर पहले से ही छह वैज्ञानिक मौजूद हैं, इस तरह वहाँ कुल 13 अंतरिक्ष यात्रियों की भीड़ इकट्ठा हो गई है.

अंतरिक्ष यात्री कई तरह के प्रयोग करने के अलावा स्पेस स्टेशन की मरम्मत के लिए अंतरिक्ष में चहलक़दमी भी करेंगे.

डिस्कवरी का यह अभियान अंतरिक्ष शटलों की अंतिम कुछ उड़ानों में से है.

उल्लेखनीय है कि इसी साल बाद में अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का शटल कार्यक्रम बंद हो जाएगा. उसके बाद अंतरिक्ष केंद्र तक वैज्ञानिकों और उपकरणों को ले जाने और लाने के लिए सिर्फ़ रूसी सोयुज़ रॉकेटों का सहारा रह जाएगा.

मम्मी अंतरिक्ष यात्री

डिस्कवरी शटल के ज़रिए अंतरिक्ष केंद्र तक पहुँचे सात यात्रियों में तीन महिलाएँ हैं. एक महिला वैज्ञानिक पहले से ही अंतरिक्ष केंद्र पर है. इस तरह एक साथ चार महिलाओं के अंतरिक्ष की कक्षा में होने का ये एक रिकॉर्ड है.

इन चार महिलाओं में एक हैं जापान की नाओको यमाज़ाकी जिन्हें उनके देश में 'मम एस्ट्रोनॉट' के नाम से प्रसिद्धि मिल रही है. नाओको सात साल की एक बच्ची की माँ है.

नाओको के पति ताइचि यमाज़ाकी ने बेटी के लालन-पालन की ज़िम्मेदारी उठाने के लिए अपनी नौकरी छोड़ दी, ताकि उनकी पत्नी की अंतरिक्ष यात्रा का सपना पूरा हो सके.

नाओको को कई महीने रूस और अमरीका के प्रशिक्षण केंद्रों में बिताने पड़े.

जापानी मीडिया में इस परिवार को बहुत कवरेज़ मिल रहा है, क्योंकि आमतौर जापानी परिवारों में बच्चे को जन्म देने के बाद माँ नौकरियाँ छोड़ कर घर संभालने में जुट जाती हैं.

नाओको अंतरिक्ष में पहुँचने वाली जापान की दूसरी महिला हैं.