सोनी का प्लेस्टेशन फिर चालू

  • 15 मई 2011
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption सोनी प्ले स्टेशन वीडियो गेम नेटवर्क को फिर से चालू किया जा रहा है

सोनी ने घोषणा की है कि वह रविवार से अपने ऑनलाइन प्ले स्टेशन वीडियो गेम नेटवर्क को बहाल करना शुरू कर रहा है.

इसे विभिन्न चरणों में पूरा किया जाएगा जिसकी शुरुआत अमरीका, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, न्यूज़ीलैंड और मध्यपूर्व से होगी.

तीन सप्ताह पहले सोनी ने पाया था कि उसके सुरक्षा कवच को भेदा गया, जिसके बाद करोड़ों उपभोक्ताओं की व्यक्तिगत जानकारी चोरी हो गई.

सोनी का कहना है कि मई के अंत तक पूरा नेटवर्क काम करना शुरू कर देगा.

उपभोक्ताओं ने इस घोषणा का स्वागत किया है क्योंकि बहुत से लोग निराश हो चुके थे.

कंपनी की इंटरनेट सुरक्षा पहले कैसी भी रही हो, लेकिन अब उसे और कड़ा करने में कोई कोर कसर बाक़ी नहीं रखी जाएगी.

लेकिन ये अपने आप में एक समस्या भी पैदा कर सकती है.

चुनौती

कंप्यूटर हैकरों को इस तरह की चुनौतियों में बड़ा आनंद आता है.

अगर वो प्ले स्टेशन नेटवर्क में फिर से सेंध लगा पाए तो इससे बड़ी उपलब्धि उनके लिए क्या होगी.

ये बात सोनी कंपनी भी जानती है कि पूर्ण सुरक्षा संभव नहीं है और अगर फिर से ऐसी कोई कोशिश हुई तो कंपनी की साख को बड़ा आघात पहुंचेगा.

सोनी के कार्यकारी उपाध्यक्ष कज़ूओ हिराइ ने उपभोक्ताओं से कहा, "इस घटना के कारण जो आपको असुविधा हुई उसके लिए मैं क्षमा चाहता हूं और बहाली की प्रक्रिया में आपने जिस धैर्य का परिचय दिया उसके लिए आपका दिल से आभारी हूं".

उन्होने कहा कि कंपनी सुरक्षा मामलों के हल के लिए 'आक्रामक क़दम' उठा रही है और उपभोक्ता की सुरक्षा के प्रति वचनबद्ध है.

कंपनी ने ये भी कहा कि वो उपभोक्ताओं को अपने नेटवर्क पर वापस आने के लिए एक 'स्वागत पैकेज' देगी.

सोनी को सुरक्षा कवच में लगाई गई सेंध का पता 20 अप्रैल को चला था जिसके बाद कोई 10 करोड़ उपभोक्ताओं के ऑनलाइन खाते से व्यक्तिगत जानकारी चोरी हो गई थी.

बहुत से उपभोक्ता इस बात से नाराज़ हुए कि कंपनी को पुलिस से संपर्क करने में दो दिन लगे और प्रभावित ग्राहकों को सूचित करने में एक सप्ताह का समय लगा.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार