अनीश चोपड़ा ने छोड़ी ओबामा की टीम

  • 28 जनवरी 2012
अनीश चोपड़ा इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption अनीश ने अपनी पढ़ाई ज़ॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय और हार्वर्ड केनेडी स्कूल से की

अमरीका के पहले मुख्य टेक्नॉलॉजी अधिकारी अनीश चोपड़ा अगले महीने अपने पद से हट जाएँगे. वो तीन साल से इस पद पर थे.

अनीश चोपड़ा का इस्तीफ़ा ऐसे वक्त आया है जब अमरीका के एक प्रमुख अख़बार में ऐसी ख़बरें आई हैं कि वो वर्जीनिया के लेफ़्टिनेंट गवर्नर के पद के लिए चुनाव लड़ने के बारे में विचार कर रहे हैं.

भारतीय मूल के अनीश चोपड़ा को जब बराक ओबामा ने अपनी टीम में शामिल किया था तो भारत में भी इसकी ख़ासी चर्चा हुई थी.

39-वर्षीय अनीश चोपड़ा की ज़िम्मेदारी थी अमरीका में तकनीकी विकास को प्रोत्साहित देना. उन्होंने ग्रामीण इलाकों में ब्रॉडबैंड सुविधाओं के विकास की ओर ध्यान दिया.

उनकी कोशिशों के कारण ही पूर्व सैनिकों को अपने चिकित्सकीय दस्तावेज़ मिल पाए.

व्हाइट हाउस ने अभी ये नहीं बताया है कि अनीश चोपड़ा के बाद ये पद कौन संभालेगा.

अमरीका के ऑफ़िस ऑफ़ साइंस और टेक्नॉलॉजी पॉलिसी प्रमुख जॉन हॉल्ड्रेन ने अनीश को राष्ट्रीय वायरलेस पहल की संरचना करने के लिए श्रेय दिया.

इस पहल के अंतर्गत अमरीका में सुरक्षित ब्रॉडबैंड नेटवर्क के विकास की कोशिशें की गई थीं.

इस पद से पूर्व अनीश चोपड़ा वर्जीनिया राज्य के तकनीकी सचिव थे.

अगले महीने अपना पद छोड़ने के बाद वो दोबारा वर्जीनिया जाएँगे, लेकिन भविष्य के बारे में उनकी योजनाओं के बारे में बहुत पता नहीं है.

अपने वक्तव्य में चोपड़ा ने कहा, “तीन साल तक देश के तकनीकी प्रमुख के पद पर रहने के बाद मैं अपने घर वर्जीनिया वापस जा रहा हूँ ताकि स्वास्थ्य, शिक्षा और ऊर्जा जैसे क्षेत्रों में नई तकनीक और प्लेटफ़ॉर्मों पर चल रहे काम को जारी रखा जा सके और भविष्य में नौकरियाँ और उद्योगों का विकास हो सके.”

अनीश ने अपनी पढ़ाई ज़ॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय और हार्वर्ड केनेडी स्कूल से की है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार