धरती पर जोरदार सौर तूफान की चेतावनी

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption ऐसी घटना इससे पहले वर्ष 1972 में हुई थी जिसकी वजह से अमरीका में लंबी दूरी की टेलीफोन सेवाएं बंद हो गई थीं

अमरीकी मौसम-वैज्ञानिकों का कहना है कि गुरुवार को धरती की सतह पर एक जोरदार सौर तूफान आ सकता है जिसकी वजह से बिजली की आपूर्ति, उपग्रह आधारित नौवहन प्रणाली और वायु यातायात बाधित हो सकता है.

मौसम में होने वाले बदलावों पर नजर रखने वाले जानकारों के मुताबिक, ये पांच वर्षों में अपनी तरह का सबसे जोरदार तूफान होगा. उनका कहना है कि भारतीय समयानुसार 11.30 बजे से दोपहर 3.30 बजे तक ये तूफान अपना असर दिखाएगा.

उन्होंने सौर जगत में इस हफ्ते की शुरूआत में हुई कुदरती आतिशबाजी को इस तूफान की वजह बताया है.

इसका मतलब ये भी है कि यदि आसमान साफ रहा तो और कुदरती नजारे देखने को मिल सकते हैं.

धरती से टकराएंगे आवेशित कण

ध्रुवीय क्षेत्रों में इसका इसका सबसे ज्यादा असर रहेगा और विमानों को इस मार्ग पर उड़ान भरने से बचने के लिए कहा जा सकता है.

ब्रितानी वैज्ञानिकों का कहना है कि गुरुवार की रात ब्रिटेन के आसमान में हैरान करने वाले नजारे देखने का सुनहरा मौका हो सकता है.

मौसम और वातावरण की गतिविधियों के जानकार अमरीकी वैज्ञानिक जोसेफ कुंचेस का कहना है कि बीते 24 घंटों में अंतरिक्ष का मौसम बेहद रोचक हो गया है.

उनके मुताबिक, आवेशित कण अंतरिक्ष से 40 लाख किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धरती से टकराएंगे और इस तूफान का असर शुक्रवार सुबह तक रह सकता है.

ऐसी घटना इससे पहले वर्ष 1972 में हुई थी जिसकी वजह से अमरीकी राज्य इलिनोई में लंबी दूरी की टेलीफोन लाइनों ने काम करना बंद कर दिया था.

संबंधित समाचार