अमरीका में विकराल मानव की तलाश

  • 11 अप्रैल 2012
बिगफुट की तस्वीर इमेज कॉपीरइट
Image caption बिगफुट की फोटो नहीं है लेकिन कई कलाकारों ने चित्र जरूर बनाए हैं.

येति, विशाल मानव या महामानव की कहानियाँ हिमालय से लेकर दुनिया के कई हिस्सों में फैली हुई हैं.

लेकिन अमरीका में कुछ लोग वैज्ञानिक तरीक़ों से विशाल मानव या बिगफुट की तलाश में जुटे हुए हैं.

वहाँ कैलिफ़ोर्निया के जंगलों में साठ के दशक में कुछ लोगों ने बिगफुट या विशालकाय मानव के अस्तित्व का दावा किया था.

उसके बाद से शायद पहली बार इस विषय में काफ़ी दिलचस्पी से शोध किया जा रहा है.

केंटकी में विकराल मानव को खोजने वालों की टीम कई तरह की आधुनिक रिकॉर्डिंग मशीनों आदि की मदद से इस काम में जुटे हुए हैं.

गंभीर शोध

इमेज कॉपीरइट
Image caption केंटकी के शोधकर्ताओं को विश्वास है कि वो बिगफुट को खोज निकालेंगे.

उत्तरी अमरीका के जंगलों में ऐसे विशाल आदमी नुमा जीवों को देखे जाने के दावे कई बार किए गए हैं.

पर इस बार की खोज में जुटे लोग कहते हैं कि वो गंभीर हैं.

वो जानते हैं कि उनका मज़ाक भी उड़ाया जाता है, इसके बावजूद उन्हें विशालकाय मानव के अस्तित्व के बारे में कोई शक नहीं है.

केंटकी बिगफुट रिसर्च ऑर्गनाइज़ेशन के प्रमुख व्यक्ति का नाम जॉय है.

उनका दावा है कि उन्होंने पिछली गर्मियों में बिगफुट को देखा था.

विकराल जीव

उन्होंने बताया कि वो एक कैंपिंग अभियान के दौरान गीले कपड़े सुखा रही थीं कि अपने खेमे के नीचे उन्होंने एक बालों भरे आदमीनुमा जीव को खड़े पाया जो निश्चित रूप से इंसान नहीं था.

जॉय ने बताया कि उस जीव में से भयानक बदबू आ रही थी.

दरअसल, 1967 में दो लोगों ने कैलिफोर्निया के जंगलों में विशालकाय मानव या बिगफुट को कैमरे में कैद करने का दावा किया था.

शोध में लगी संस्थाओं का दावा है कि अमरीका और कनाडा में अब तक 4000 बार बिगफुट को देखा गया है.

उत्तर-पश्चिम अमरीका के मूल निवासी मानते हैं कि बिगफुट आध्यात्मिक संदेश देने आता है.

संबंधित समाचार