समलैंगिकों के लिए बिज़नस ढूँढता ऐप

Image caption ये ऐप समलैंगिकों से जुड़े व्यवसायिक संस्थानों को समलैंगिक और ट्रांसजेंडर ग्राहकों से जोड़ता है.

यूँ तो आए दिन कोई न कोई स्मार्टफोन ऐप लॉन्च होता रहता है लेकिन हॉंग कॉंग में रहने वाले ब्रितानी उद्यमी पॉल रैमस्कार ने एकदम अनोखा ऐप निकाला है.

ये ऐप समलैंगिकों के प्रति दोस्ताना रवैया रखने वाले व्यवसायिक संस्थानों को समलैंगिकों, बाईसेक्सयुल और ट्रांसजेंडर ग्राहकों से जोड़ता है.

इसे पिंक डॉलर ऐप का नाम दिया गया है. बिज़नेस संस्थान पिंक डॉलर ऐप पर लिस्ट होने के लिए अर्ज़ी देते हैं जिसके बाद ग्राहक इनकों रेटिंग देते हैं.

शुरु में ये केवल एपल आईफोन पर ही उपलब्ध होगा जबकि एंड्रायड वर्ज़न की तैयारी चल रही है.

इसे तैयार करने वाले पॉल रैमस्कार कहते हैं, "ये मात्र एक ऐप नहीं है बल्कि इसके पीछे एक बड़ी वजह है. मैं यूरोप में रहता था जहाँ संस्कृति अलग है. आप खुले तौर पर घूम सकते हैं, हाथ पकड़कर चल सकते हैं. कोई दिक्कत नहीं होती लेकिन हॉंग कॉंग में ऐसा नहीं कर सकते.”

लॉरा डाउटी समलैंगिकों के लिए काम करने वाले गुट स्टोनवॉल की उप मुख्य कार्यकारी हैं.

वे कहती हैं, “ट्रांसजेंडर, समलैंगिकों और बाईसेक्सुयल लोगों को आपस में जोड़ने में तकनीक की अहम भूमिका है. इंटरनेट के कारण इन लोगों के लिए संसाधन ढूँढना आसान हो गया है- फिर वो नेटवर्किंग की बात हो या फिर बिज़नेस घरानों से संपर्क की.”

‘पिंक पाउंड’ ऐप को ब्रिटेन में 81 अरब पाउंड में आंका गया है.

इसके अलावा Grindr नाम का एक ऐप भी 2009 से मौजूद है जो समलैंगिक लोगों के लिए डेटिंग नेटवर्क तैयार करता है.

संबंधित समाचार