'समली': एक ऐप में सिमटा खबरों का संसार

निक डी' एलोइसियो
Image caption निक डी' एलोइसियो ने समली स्मार्टफोन ऐप बनाने के लिए स्कूल की पढाई बीच में छोड़ दी थी. अब वो अपनी शिक्षा पूरी करना चाहते हैं.

सत्रह साल के एक ब्रितानी किशोर द्वारा बनाई गई स्मार्टफ़ोन की ऐप अमरीकी बाज़ार में आने के महज़ दो घंटों के अंदर ही ऐपल की दस चुनिंदा ऐप में से एक हो गई.

लंदन में रहने वाले 17-वर्षीय निक डी' एलोइसियो ने स्मार्टफोन पर इस्तेमाल होने वाली एक ऐसी ऐप बनाई है जो इंटरनेट पर मौजूद ख़बरों का सारांश देती है. 'समली' नाम की इस ऐप को बनाने के लिए अलोइसियो को निवेशकों से दस लाख डॉलर से ज़्यादा की फ़डिंग मिली

इंटरनेट पर मौजूद ख़बरों का सारांश देने वाली ये एक फ्री-टू-डाउनलोड ऐप है. सारांश पढ़ने के बाद उपभोक्ता जिस भी ख़बर को विस्तार से पढ़ना चाहते हैं वो उस पर स्वाइप कर सकते हैं.

इस ऐप को बनाने के लिए निक ने स्कूल से कुछ समय तक छुट्टी ली. उन्होंने बीबीसी को बताया, "हमने इस इंटरफ़ेस को बनाने के लिए बहुत मेहनत की और ये आईफ़ोन पर मौजूद किसी भी इंटरफ़ेस से बिल्कुल अलग है. ये हर मिनट में हज़ारों लेखों का सार तैयार करता है."

बड़े सपने

Image caption निक चाहते हैं कि भविष्य में इस ऐप के लिए लोग छोटा-सा भुगतान भी करें.

निक के ऐप के मशहूर समर्थकों में लेखक स्टीफ़न फ्राए, टेक सिटी कंपनी की सीईओ जोआना शील्ड्स और न्यूज़कॉर्प के मालिक रुपर्ट मरडॉक शामिल हैं. हालांकि कुछ शुरुआती समीक्षाओं में लोगों ने समली को "भ्रामक या उलझाने वाला" भी बताया है.

इसके बावजूद उपभोक्ताओं ने इस्तेमाल के बाद ऐप को पांच मे से चार स्टार दिए हैं.

गुरुवार को अपना 17वां जन्मदिन मनाने वाले निक की आंखों में 'समली' बनाने वाली अपनी कंपनी के लिए बड़े-बड़े सपने हैं.

वे कहते हैं, "मैं कंपनी का अच्छा भविष्य देखता हूं. आगे चलकर हमारा ऐप मोबाइल पर ख़बरें पढ़ना का प्रारुप बन सकता है. लोग मोबाइल पर हज़ार शब्द लंबे लेख नहीं पढ़ते, उन्हें छोटे लेख चाहिए.''

निक ये भी चाहते हैं कि लोग जिन समाचारों को पूरा पढ़ना चाहते हैं, भविष्य में वो उनके लिए छोटा-सा भुगतान भी करें. वे अब अपनी स्कूली शिक्षा पूरी कर विश्वविद्यालय जाना चाहते हैं. लेकिन साथ ही निक अपनी कंपनी से भी जुड़े रहना चाहते हैं.

निक कहते हैं, "मैं पूरी कोशिश करूंगा कि कंपनी में रहूं. मैं इसका संस्थापक हूं, ये मेरा विज़न है और मैं इसे कामयाब होता देखना चाहता हूं."

संबंधित समाचार