चिप लगाओ, मोटापा घटाओ?

Image caption वैज्ञानिकों के मुताबिक ये चिप भूख कम कर सकती है.

इंग्लैंड में वैज्ञानिकों ने एक 'बुद्धिमान' इलेक्ट्रॉनिक माइक्रोचिप बनाया और दावा कर रहे हैं कि ये चिप वज़न घटाने में मददगार साबित हो सकती है.

इस चिप का जानवरों पर प्रयोग शुरू होने वाला है और आने वाले तीन साल में इसका प्रयोग इंसानों पर किया जा सकेगा.

इस शोध पर इंपीरियल कॉलेज लंदन के प्रोफेसर क्रिस टूमाज़ू और प्रोफेसर सर स्टीफन ब्लूम काम कर रहे हैं.

ये चिप एक इम्प्लांट है जो पेट के अंदर वेगस तंत्रिका पर लगाई जाएगी. ये चिप वेगस तंत्रिका से मिलने वाली केमिकल और इलेक्ट्रिकल संकेतों को पढ़ सकेगी. उसके बाद ये चिप उन संकेतों पर कार्रवाई करते हुए दिमाग को संकेत भेजेगी जिससे भूख कम हो जाएगी या खत्म हो जाएगी.

प्रोफेसर टूमाज़ू ने बीबीसी को बताया, "ये चिप नर्व की उन संकेतों की कॉपी कर सकती है जो भूख लगने की क्रिया पर लगाम रखते हैं. इस तरह ये भूख को कम करेगी और ये नहीं इशारा देगी कि खाना ही न खाया जाए."

प्रोफेसर ब्लूम कहते हैं कि इस चिप की मदद से वज़न घटाने के लिए सर्जरी नहीं करानी पड़ेगी.

(क्या आपने बीबीसी हिन्दी का नया एंड्रॉएड मोबाइल ऐप देखा? डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें)

'साइड इफेक्ट नहीं'

वो कहते हैं कि चिप से दिमाग को ऐसे संकेत मिलेंगे जैसे पेट भर जाने के बाद मिलता है कि अब और खाना न खाया जाए.

इन शोधकर्ताओं का कहना है कि चिप का कोई साइड इफेक्ट नहीं होगा.

यूरोपीय शोध संघ ने इस रिसर्च के लिए नौ मिलियन डॉलर की रकम मुहैया कराई है.

वेगस तंत्रिका पर चिप लगाकर वज़न कम कराने का शोध सिर्फ इंग्लैंड में ही नहीं हो रहा है. अमरीका की एक कंपनी एंट्रोमेडिक्स भी इसपर काम कर रही है.

इन शोधकर्ताओं का कहना है कि वज़न घटाने के लिए सर्जरी करने से ये सस्ता उपाय और बेहतर साबित हो सकता है.

संबंधित समाचार