सैमसंग स्मार्टफ़ोन में बायोमेट्रिक सिक्योरिटी

  • 25 फरवरी 2014
एस5 स्मार्टफ़ोन इमेज कॉपीरइट AP

स्मार्टफ़ोन बाज़ार की अग्रणी कंपनी सैमसंग ने कहा है कि उसके गैलेक्सी स्मार्टफ़ोन की नई रेंज में बायोमेट्रिक सिक्योरिटी की व्यवस्था होगी.

ऐपल के आईफ़ोन-5 की तरह सैमसंग के स्मार्टफ़ोन भी फिंगरप्रिंट स्कैनर से अनलॉक होंगे.

सैमसंग का एस-5 स्मार्टफ़ोन अप्रैल में बाज़ार में आएगा. इस फ़ोन में पानी और धूल से बचने की भी व्यवस्था है.

दक्षिण कोरिया की कंपनी सैमसंग ने साथ ही दुनिया का सबसे तेज़ ऑटो फ़ोकसिंग कैमरा बनाने का दावा किया है.

कंपनी ने रविवार को दो स्मार्टवॉच गियर और गियर-2 नियो को बाज़ार में उतारने के साथ ही फ़िटनेस पर आधारित स्मार्टबैंड गियर फ़िट भी लॉन्च किया है.

स्पेन के शहर बार्सिलोना में हुई मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस में सुरक्षा एक बहुत बड़ा मुद्दा था.

सिक्योरिटी फ़ीचर

इससे पहले सोमवार को साइलेंट सर्कल ने ब्लैकफ़ोन लॉन्च किया. इसमें कई स्पेशलाइज्ड सिक्योरिटी ऐप्स हैं जो इनक्रिप्टेड कम्युनिकेशन का इस्तेमाल करते हैं.

सैमसंग के सिक्योरिटी फ़ीचर ने मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस में जमकर तालियां बटोरीं.

फिंगरप्रिंट स्कैनर मोबाइल को अनलॉक करने के अलावा पावर पेमेंट के लिए भी इस्तेमाल किया जाएगा. इसके लिए सैमसंग ने पेपाल के साथ हाथ मिलाया है.

इस स्कैनर को प्राइवेट मोड में भी रखा जा सकता है. इस तरह संवेदनशील सूचनाओं को एक जगह रखा जा सकता है जिन तक केवल स्कैनर के माध्यम से ही पहुँचा बन सकती है.

ओवम के मुख्य विश्लेषक एडन जोलर ने कहा, "उपभोक्ता मौजूदा भुगतान व्यवस्था की सुरक्षा को लेकर पहले से ही चिंतित हैं और संभव है कि वे नई तकनीक को भी संदेह की दृष्टि से देखेंगे."

उन्होंने कहा, "इसका सकारात्मक पहलू यह है कि सैमसंग बेहद लोकप्रिय स्मार्टफ़ोन ब्रांड है जिसकी पहुँच पूरी दुनिया में है. इसी तरह पेपाल भी एक भरोसेमंद पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर है."

इस डेवाइस का एक फ़ीचर जो लोगों को बहुत पसंद आया वह है इसका ब्लैक एंड व्हाइट मोड. यह स्क्रीन द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली पावर के इस्तेमाल को सीमित करके बैट्री की लाइफ को बढ़ाता है.

शानदार फ़ीचर

इमेज कॉपीरइट SAMSUNG

यूस्विचड डॉटकॉम के अर्नेस्ट डोकू ने कहा, "ऐसा लगता है कि सैमसंग ने सभी दूसरी मोबाइल कंपनियों के शानदार फ़ीचर एक सूत्र में पिरो दिए हैं."

उन्होंने कहा, "इसमें ऐपल के आईफ़ोन-5एस की तरह फिंगरप्रिंट आईडी सेंसर और सोनी के एक्सपीरिया जे2 की तरह पानी और धूल से बचाने वाले फ़ीचर हैं तो साथ ही फ़ोटोग्राफी की ऐसी शानदार तकनीक है जो नोकिया को चुनौती दे सके."

दुनिया के स्मार्टफ़ोन बाज़ार में इस समय सैमसंग का दबदबा है.

स्ट्रैटजी एनालिस्टिक्स के मुताबिक़ साल 2013 में सैमसंग ने 45 करोड़ बीस लाख मोबाइल बेचे जबकि ऐपल इस दौरान 15 करोड़ तीनस लाख डिवाइस ही बेच पाई.

लेकिन एस5 से पहले आया सैमसंग का एस4 स्मार्टफ़ोन एस3 की तरह धूम मचाने में नाकाम रहा.

कंपनी को साथ ही चीन की उभरती कंपनियों शियोमी, जेडटीई और लेनोवो से कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार