समुद्र की रहस्यमयी आवाज़ का राज़

  • 7 मई 2014
समुद्र रहस्यमयी आवाज़ इमेज कॉपीरइट ARI S. FRIEDLAENDER

वैज्ञानिकों के रिपोर्ट के मुताबिक़ दक्षिणी महासागर में सुनी जानी वाली एक विचित्र बत्तख की बोली जैसी आवाज़ का रहस्य सुलझा लिया गया है.

अबूझ पहेली बनी इस रहस्यमयी आवाज़ को 'जैव-बत्तख' उपनाम से जाना जाता है. यह आवाज़ दक्षिणी महासागर में सर्दियों और वसंत के मौसम में सुनाई देती है. हालांकि इसके स्रोत ने दशकों से शोधकर्ताओं को चक्कर में डाल रखा था.

लेकिन अब ध्वनि रिकार्डर की मदद से पता चला है ध्वनि वास्तव में पानी के नीचे अंटार्कटिक मींक व्हेल के दांत बजाने की आवाज़ है.

ये निष्कर्ष रॉयल सोसायटी जर्नल बायोलॉजी लेटर्स में प्रकाशित हुआ हैं.

अमरीका के राष्ट्रीय समुद्रीय और वायुमंडलीय प्रबंधन (एनओएए) पूर्वोत्तर मत्स्य विज्ञान केंद्र मैसेचुसेट्स के प्रमुख शोधकर्ता डेनिस रिस्च ने कहा: "इस ध्वनि संकेत के स्रोत को खोजना मुश्किल था. पिछले कुछ वर्षों में कई सुझाव दिए गए लेकिन कोई भी वास्तव में अब तक यह दिखाने में सक्षम नहीं था कि ये प्रजाति यह आवाज़ निकाल रही थी."

पुख्ता सबुत

इस अजीब आवाज़ को पहली बार 50 साल पहले पनडुब्बियों ने पकड़ा था. जिसने भी इसे सुना वह इस बत्तख नुमा आवाज़ को सुनकर हैरान था.

तब से लेकर कई बार पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया के पास अंटार्कटिक के पानी में कम आवृत्ति वाली ये ध्वनि रिकार्ड की गई.

इमेज कॉपीरइट ARIS. FRIEDLAENDER

इसके स्रोत को लेकर किसी मछली से लेकर जहाज तक की अटकलें लगाई जा रही थी.

शोधकर्ताओं का कहना है उनके पास अब 'निर्णायक साक्ष्य' है कि यह बत्तख नुमा आवाज़ अंटार्कटिक मींक व्हेल की आवाज़ है.

2013 में दो व्हेलों के साथ ध्वनि रिकार्डर को जोड़ा गया और जिसने व्हेल के द्वारा निकाले गए आवाज़ को दर्ज किया.

शोधकर्ताओं को अब तक यह नहीं पता है कि किन परिस्थितियों में मींक व्हेल इस तरह की आवाज़ निकालते हैं लेकिन आवाज़ सतह के नजदीक से रिकार्ड की गई जब व्हेल खाने के लिए समुद्र की गहराई में गए थे.

शोधकर्ता दल का कहना है लंबे वक्त तक रहस्य बने रहे इस विषय के अध्ययन से इस कम जानकारी वाले प्रजाति के बारे में अधिक जानने में मदद मिलेगी.

यह हाल ही में वैज्ञानिकों के द्वारा अध्ययन किया गया अकेली ध्वनि पहेली नहीं है

एक और चौंकाने वाला कम आवृत्ति वाला आवाज़ जिसे ब्लूप कहा जाता है - अंटार्कटिका की बर्फ की आवाज़ साबित हुई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार