अर्जेंटिनाः सबसे बड़े जीव के अवशेष मिले

डायनासोर इमेज कॉपीरइट NA

पुरातत्व विज्ञानियों का कहना है कि उन्हें अर्जेंटिना में जीवाश्म मिले हैं, जिन्हें धरती पर पैदा हुए अब तक के सबसे विशाल जीव के जीवाश्म माना जा रहा है.

विशाल हड्डियों के आधार पर इसके क़द का अंदाज़ा लगाया गया है. माना जा रहा है कि यह डायनासोर 40 मीटर लंबा और 20 मीटर ऊंचा रहा होगा.

इसका वज़न 77 टन आंका गया है, जो 14 अफ़्रीकी हाथियों के वज़न के बराबर है. ये इससे पहले मिले डायनासोर अर्जेंटिनोसॉरस से सात टन अधिक वज़नी है.

वैज्ञानिक इसे टीटानोसॉर की नई नस्ल मान रहे हैं. ये शाकाहारी डायनोसॉर थे.

ये जीवाश्म सबसे पहले एक स्थानीय किसान को ला फ़्लेचा के नज़दीक रेगिस्तान में मिले थे.

इन जीवाश्मों की बाद में पुरातत्व विज्ञानियों की टीम ने खुदाई की. टीम का नेतृत्व जीवाश्मिकी संग्रहालय एगिडियो फ़ेरुग्लियो के डॉक्टर डिएगो पोल और डॉक्टर जोस लुइस कार्बालिडो ने किया.

पुरातत्व विज्ञानियों ने कुल सात डायनोसॉर की 150 हड्डियां निकालीं. सभी हड्डियां अच्छी अवस्था में हैं.

इमेज कॉपीरइट NA

बीबीसी की नेचुरल हिस्ट्री शाखा की एक टीम भी इस अविश्वस्नीय खोज को कैमरे में क़ैद करने के लिए मौजूद थी.

वज़न 70 टन

जांघ की हड्डी (फ़ीमर) की लंबाई नापकर वे डायनोसॉर का वज़न आंकने में कामयाब रहे, जो 77 टन निकला.

शोधकर्ता ने बीबीसी से कहा, "इन हड्डियों का क़द अब तक मिले किसी भी विशाल जानवर से बड़ा है. ये नए डायनोसॉर धरती पर पैदा हुए अब तक के सबसे बड़े ज्ञात जानवर बन गए हैं."

"सिर से लेकर पूंछ तक इनकी लंबाई 40 मीटर थी. गर्दन ऊपर करके इनकी ऊंचाई 20 मीटर तक थी, जो सात मंज़िला इमारत के बराबर है."

इमेज कॉपीरइट SPL
Image caption नए डायनासोर को अर्जेटीसोरस का क़रीबी माना जा रहा है.

जीवाश्म मिलने के स्थान की चट्टानों की उम्र के आकलन के आधार पर माना जा रहा है कि ये डायनोसॉर धरती पर साढ़े नौ से दस करोड़ साल के बीच रहे होंगे.

हालांकि अभी तक इन विशाल क़द के डायनोसॉर को कोई नाम नहीं दिया गया है.

शोधकर्ताओं का कहना है कि इन डायनोसॉर को नाम उनके क़द के आधार पर और जीवाश्म के बारे में जानकारी देने वाले फ़ॉर्म के मालिकों को सम्मान देते रखा जाएगा.

शुरुआत में इन डायनोसॉर का वज़न क़रीब सौ टन आंका गया था, जिसे बाद में संशोधित करके क़रीब 70 टन कर दिया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार