सोशल मीडिया पर दुर्व्यवहारः 2,000 बच्चों की जांच

  • 31 मई 2014
साइबर बुलीइंग इमेज कॉपीरइट thinkstock

ब्रिटेन में सोशल मीडिया पर दुर्व्यवहार करने, अपमानजनक ट्विटर मैसेज भेजने और डराने धमकाने के आरोप में 2011 से अब तक क़रीब 2,000 बच्चों की जांच की गई है.

समाचार संस्था स्काई न्यूज़ ने फ़्रीडम ऑफ़ इंफ़ॉर्मेशन एक्ट का इस्तेमाल करके हासिल जानकारी के अनुसार इनमें से 1,200 पर या तो अभियोग दर्ज किया गया या चेतावनी दी गई या उन पर जुर्माना लगाया गया.

इन आंकड़ों के अनुसार इसी दौरान क़रीब 20,000 वयस्कों से भी पूछताछ की गई.

टेसाइड में एक नौ साल और चार 10 साल के बच्चों को चेतावनी दी गई है.

चिंता

अधिकारियों से ऑनलाइन दुर्व्यवहार का पूरा आंकड़ा नहीं मिल पाया है जिससे पूरी तस्वीर साफ़ नहीं हो सकी है.

Image caption ब्रिटेन के संचार कानून के तहत टेक्स्ट मैसेज और फ़ोन कॉल से दुर्व्यवहार भी आते हैं.

लेकिन देश भर में क़रीब 34 पुलिसकर्मियों ने यह जानकारी दी कि 2003 के संचार क़ानून की धारा 127 के तहत कितने मामलों में जांच शुरू की गई.

इस क़ानून के तहत सोशल मीडिया पर किए गए दुर्व्यवहार आते हैं, चाहे वह टेक्स्ट मैसेज हों या फिर परेशान किए जाने वाले फ़ोन कॉल.

पिछले साल जांच किए जाने वाले मामलों की संख्या पर चिंता ज़ाहिर की गई थीं, जिसके बाद नए निर्देश जारी किए गए, और कार्रवाई की सीमा को बढ़ा दिया गया.

हर्टफ़ोर्डशर पुलिस ने पिछले साल जांच के लिए सबसे ज़्यादा मामले दर्ज किए. वर्ष 2011 के 291 से बढ़कर यह मामले 1,042 हो गए थे.

तीन साल के दौरान मैट्रोपॉलिटन पुलिस ने सबसे ज़्यादा 2,099 मामलों की जांच की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार