किसे पता हैं आपके जिस्म के राज़?

वियरेबल गैजेट, आदमी इमेज कॉपीरइट Thinkstock

जेफ़ ने दोपहर दो बजे सेक्स करना शुरू किया. उसने इसमें 347 कैलोरी ऊर्जा ख़र्च की. हमें यह बात इसलिए पता है क्योंकि यह जानकारी इंटरनेट पर सभी के लिए उपलब्ध है.

जेफ़ को भी इसकी जानकारी है या नहीं, पता नहीं.

घड़ी जो कार और सेहत पर रखे नज़र

जेफ़ ने एक फ़िटबिट गैजेट पहन रखा था. यह इंटरनेट से जुड़ा था और इस पर नज़र रखता है कि इसे पहनने वाला कितना व्यायाम करता है और उसमें कितनी कैलोरी ऊर्जा ख़र्च करता है.

साल 2011 तक यह डेटा एक वेबसाइट पर मौजूद रहता था. इसे सर्च इंजन के ज़रिए खोजा जा सकता था.

इस रिस्टबैंड को पहनने वालों में जिन्होंने सेक्स को शारीरिक व्यायाम के रूप में दर्ज किया था, उनके सबकी सेक्स लाइफ़ की जानकारी पूरी दुनिया को उपलब्ध थी.

अप्रत्याशित परिणाम

इमेज कॉपीरइट AP

हालांकि फ़िटबिट बनाने वाली कंपनी ने यह कमी दुरुस्त कर दी, पर इससे पता चला कि अगर आप अपनी शारीरिक गतिविधियां इंटरनेट से जोड़ते हैं, तो इसके अप्रत्याशित परिणाम हो सकते हैं.

आजकल कई वेयरेबल डिवाइस मौजूद हैं, जो आपके वज़न, खानपान और प्रजनन क्षमता पर निगरानी रखते हैं. इसमें से ज़्यादातर जानकारी को सोशल मीडिया, डॉक्टरों, कंपनियों या अजनबियों के साथ साझा की जा सकती हैं.

पांच ऐप्स जो रखते हैं आपकी फ़िटनेस पर नज़र

सवाल यह है कि आख़िर आप यह गोपनीय जानकारी किस हद तक साझा करना चाहेंगे?

वेयरेबल टेक्नॉलॉजी कई मामलों में हमारे शरीर के बारे में हमें जागरूक करती है.

वायरलेस मेडिकल डिवाइस ने दुनिया को छोटा बना दिया है. अब कई क्रॉनिक बीमारियों पर डॉक्टरों के लिए नज़र रखना आसान हो गया है.

ख़तरा

इमेज कॉपीरइट PA

लेकिन इसके ख़तरे भी हैं.

अगर आप के हेल्थ इंश्योरेंस एजेंट को ये जानकारियां मिल जाएंगी तो वो आपसे ज़्यादा पैसे मांग सकते हैं या वो आपको पॉलिसी देने से इनकार कर सकते हैं.

शायद, यही वजह है कि ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस ने मरीजों के रिकॉर्ड संबंधी जानकारियों को ऑनलाइन साझा करने की योजना टाल दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार