'प्रेयर मैट' से मिली दर्द से मुक्ति

प्रेयर मैट

ब्रैडफ़ोर्ड के एक डॉक्टर ने एक ऐसा स्टूल बनाया है जो मुस्लिमों को 'दर्दरहित' नमाज़ अदा करने में मददगार साबित हो सकता है.

दरअसल, घुटने के दर्द से परेशान कई मुस्लिमों को परंपरागत तरीके से फ़र्श पर चटाई बिछाकर नमाज़ अदा करने में भारी दर्द झेलना पड़ता है.

डॉक्टर सुलेमान मूरिया ख़ुद घुटने की तकलीफ़ से गुजरे और इस ख़ास स्टूल को तैयार करने में उन्हें चार साल का लंबा वक़्त लगा.

स्पेशल कुशन

डॉक्टर मोरिया कहते हैं, "तरीका यह है कि नमाज के दौरान घुटने टेकने से पहले इस कुशन (गद्दी) को पैरों के बीच फर्श पर रखना पड़ता है. और जब आप प्रचलित तरीके से बैठेंगे तो शरीर का पूरा भार कुशन पर चला जाएगा. इस तरह से आप घुटने के दर्द से बच जाएंगे."

वह कहते हैं, "मुझे अपनी और दूसरों की मदद करने की खुशी है. मैंने ये कुशन ब्रैडफ़ोर्ड की सात मस्जिदों में बांटे हैं और मुझे यह कहते हुए बेहद खुशी रही है कि लोगों से शानदार प्रतिक्रिया मिल रही है."

डॉक्टर मोरिया का कहना है कि इसे हर कोई इस्तेमाल नहीं कर सकता, क्योंकि इसके लिए आपको घुटनों के बल तो झुकना ही पड़ता है.

बड़ी राहत

कुदरत शाह घुटनों के दर्द के चलते पिछले डेढ़ साल से फर्श़ में चटाई पर नमाज़ नहीं पढ़ पा रहे थे.

वह कहते हैं, "मैं घुटनों के बल नहीं झुक सकता था. जब इमाम लंबी नमाज पढ़ाते थे तो मैं बहुत देर तक नहीं बैठ पाता था. और ईमानदारी से कहूं तो मन ही मन नमाज़ जल्द ख़त्म करने को कहता था."

इस अनोखे कुशन के बाद कुदरत शाह एक बार फिर चटाई पर नमाज़ पढ़ पा रहे हैं और वह भी बिना दर्द के.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार