इतनी भी असामाजिक नहीं होती शार्क

शार्क मछली इमेज कॉपीरइट DAVID SIMS

समुद्र की सबसे खुंख़ार और हिंसक जीवों में शामिल शार्क मछलियाँ भी इंसानों की तरह अंतर्मुखी या बहिर्मुखी स्वभाव वाली होती हैं. और उनका स्वभाव उनके सामाजिक बरताव को प्रभावित करता है.

यह बात बिहैवियरल इकालजी एण्ड सोशियोबायोलॉजी के एक ताज़ा शोध में कही गई.

यह शोध ब्रिटेन के मरीन बायोलॉजिकल एसोसिएशन और यूनिवर्सिटी ऑफ़ एक्सटर ने संयुक्त रूप से किया है.

देखिए तस्वीरेंः दुनिया का पहला शार्क अभ्यारण्य

सामाजिक व्यवहार

ब्रितानी वैज्ञानिकों ने शार्क मछलियों के दस समूहों के व्यवहार का तीन अलग-अलग परिस्थितियों में अध्ययन किया.

इस शोध में वैज्ञानिकों ने देखा कि व्यक्तिगत स्तर पर शार्क मछलियां भी सामाजिक बरताव का प्रदर्शन करती हैं.

अध्ययन में उन्होंने पाया कि शार्क मछलियां अलग-अलग परिस्थितियों में बाक़ी मछलियों के साथ मिलकर समूह बनाती हैं या फिर एकाकी रहती हैं.

इमेज कॉपीरइट spl
Image caption शार्क मछली के व्यक्तित्व का यह पहला वैज्ञानिक अध्ययन है.

इस दौरान दूसरे समूह और वातावरण में शार्क मछलियों के व्यवहार में समानता देखी गई.

वहीं एक समूह के भीतर अलग-अलग परिस्थिति में बनने वाले उप-समूहों की संख्या में भी अंतर देखा गया.

लंदन में बिहैवियरल इकोलॉजिस्ट के रूप में काम करने वाले शोध के प्रमुख लेखक डॉक्टर डेविड जैकब कहते हैं, "शोध के परिणाम सामाजिक प्राथमिकताओं के अनुरूप हैं, जो सुरक्षित रहने की विभिन्न रणनीतियों को प्रदर्शित करते हैं."

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार