बिना ड्राइवर की चलेगी ट्यूब ट्रेन

ट्यूब ट्रेन इमेज कॉपीरइट Transport for London

लंदन में बिना ड्राइवर के चलने वाली भूमिगत ट्यूब ट्रेन की डिज़ाइन का अनावरण किया गया है.

ऐसी 250 ट्रेनों को 2022 तक चलाने की योजना है.

इसपर आने वाली लागत 16 बिलियन पाउंड यानी लगभग 1600 अरब रूपए तक हो सकती है.

हालांकि रेल, मैरीटाइम एंड ट्रांसपोर्ट (आरएमटी) यूनियन ने इस बात पर गहरी चिंता व्यक्त की है कि ये ट्रेन बिना ड्राइवर की चलाई जाएगी.

आरएमटी ब्रिटेन का सबसे बड़ा परिवहन यूनियन है.

लंदन की सार्वजनिक परिवहन ईकाई लंदन अंडरग्राउंड का कहना है कि ये ट्रेन शुरू में ड्राइवर ही चलाएंगे.

विरोध

इमेज कॉपीरइट TRANSPORT FOR LONDON

आरएमटी के जेनरल सक्रेटरी मीक कैश ने कहा, "आरएमटी ने कई बार इसे स्पष्ट किया है कि कोई भी कदम जो जानलेवा हो या ड्राइवरों को नौकरी से हटाने वाला हो इसका ज़ोरदार राजनीतिक विरोध किया जाएगा."

ट्रांसपोर्ट फ़ॉर लंदन के एक प्रवक्ता ने कहा कि किसी भी ड्राइवर की नौकरी नहीं जाएगी लेकिन साथ में यह भी कहा कि अगर ड्राइवरों के बिना इसे चलाने का निर्णय लिया जाता है तो ये चरणबद्ध तरीक़े से किया जाएगा.

ट्रेन ड्राइवरों के संघ के फ़ीन ब्रेनान ने कहा कि उनलोगों ने हमेशा स्वचालित ट्रेनों का विरोध किया है क्योंकि सिंगल ट्रैक वाला विक्टोरियन ढांचा ड्राइवरों के अनुकूल ही बना है.

वर्तमान में डॉकलैंड लाइट रेलवे सेवा ड्राइवरों के बिना ट्रेन चलाती है लेकिन इसके लिए ट्रैक 1980 के दशक में तैयार किया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार