जब भाई के चेहरे वाले इंसान से मिली बहन

चेहरा, प्रत्यर्पण इमेज कॉपीरइट 60 MINUTES AUSTRALIA

एक महिला ने हाल ही में उस व्यक्ति से मुलाकात की जिसे महिला के भाई का चेहरा प्रत्यर्पित किया गया था.

ऑस्ट्रेलिया के चैनल 9 से प्रसारित कार्यक्रम में रेबेका एवरसानो को अपने मृत भाई के चेहरे को देखते और हाथ लगाते दिखाया गया है.

रेबेका के भाई जोशुआ का चेहरा अमरीका के वर्जीनिया के रिचर्ड नॉरिस को लगाया गया है. रिचर्ड एक शॉटगन हादसे में 15 साल पहले बुरी तरह से ज़ख़्मी हो गए थे.

15 साल में वो ज़्यादातर समय ही अकेले रहे और शायद ही कभी बाहर गए.

'दुखद'

इमेज कॉपीरइट 60 MINUTES AUSTRALIA

आम तौर पर जिन लोगों का चेहरा प्रत्यर्पित होता है वो चेहरे का दान करने वाले परिवारों से नहीं मिलते.

रेबेका ने रिचर्ड के चेहरे को छुआ और कहा, "ये वो चेहरा है जिसके साथ मैं बड़ी हुई."

रेबेका की मां ग्वेन अवरसानो ने सीटीवी न्यूज़ से कहा, "नॉरिस से मिलने, उन्हें देखने और उनसे बात करने के बाद हमें उनमें हमारा बेटा दिखता है."

ये ट्रांसप्लांट सर्जरी तीन साल पहले यूनिवर्सिटी ऑफ़ मैरीलैंड में हुई थी. ये सर्जरी 36 घंटे तक चली थी.

जिन लोगों के चेहरे बिगड़ जाते हैं उन्हें एम्स पैर्ट्रिज की संस्था चेंजिंग फ़ेसेस मदद करती है. पैर्ट्रिज ने बीबीसी से कहा कि उन्हें याद नहीं आता कि कभी चेहरे का दान करने वाले परिवार ने उस व्यक्ति से मुलाकात की हो जिसे चेहरा दिया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)