बच्चों को कुंद बना सकता है 'टैबलेट प्रेम'

  • 21 नवंबर 2015
इमेज कॉपीरइट SPL

बच्चों में टैबलेट और स्मार्ट फ़ोन की बढ़ती आदत की वजह से उनकी तकनीकी कुशलता को नुकसान पहुंच सकता है.

यह बात ऑस्ट्रेलिया की एक शैक्षणिक संस्था की रिपोर्ट में सामने आई है.

संस्था ने अपनी रिपोर्ट में पाया कि साल 2011 से कुछ बच्चों में आईटी साक्षरता के मामले में 'महत्वपूर्ण गिरावट' आई है.

रिपोर्ट के मुताबिक़ बच्चों ने स्मार्टफ़ोन और टैबलेट पर अलग तरह की कुशलता सीखी है जोकि कार्यस्थलों पर ज़रूरत पड़ने वाली तकनीकी कुशलता से अलग है.

इमेज कॉपीरइट Raspberry Pi

रिपोर्ट में कहा गया है कि ऑस्ट्रेलिया के स्कूलों में तकनीकी पढ़ाई में आए बदलाव कुछ हद तक इन गिरावटों की वजह हो सकते हैं.

इसके अलावा रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि उपकरणों में होने वाले फेरबदल भी इन बदलावों की वजह हो सकते हैं.

ऑस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय मूल्यांकन कार्यक्रम की यह रिपोर्ट बच्चों के दो समूहों पर आधारित है.

एक समूह ऐसे बच्चों का था जो अभी-अभी प्राथमिक शिक्षा पूरा किया था और दूसरा समूह ऐसे बच्चों का था जो सेकेंड्री स्कूल के चौथे साल में था.

इस अध्ययन में 10,500 बच्चों ने हिस्सा लिया. रिपोर्ट में 2011 के डिजिटल साक्षरता से 2014 के आख़िर में किए गए सर्वे की तुलना की गई है.

रिपोर्ट के मुताबिक़ इन सालों के दौरान तकनीकी साक्षरता के मामले में बच्चों के दोनों समूहों में महत्वपूर्ण गिरावट देखी गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार