गूगल पर पढ़िए कोई भी किताब

  • 5 जनवरी 2016
इमेज कॉपीरइट Getty

गूगल पर अब आप कोई भी किताब पढ़ सकते हैं

लेखक अपनी किताब गूगल बुक्स पर प्रकाशित होने के लिए भी दे सकते हैं

गूगल पर अब आप कोई भी किताब ढूंढ सकते हैं. करीब दस साल की कानूनी लड़ाई के बाद, गूगल को कुछ हफ्ते पहले ऐसा करने की इजाज़त मिल गयी है.

अब उम्मीद है कि गूगल का लाइब्रेरी प्रोजेक्ट, जो किताबों को स्कैन कर ऑनलाइन लाने की कोशिश कर रहा है वह अब आगे बढ़ेगा.

इमेज कॉपीरइट AP

अदालत के इस फैसले के बाद किसी भी किताब में सब कुछ लिखा हुआ अब गूगल पर सर्च किया जा सकेगा.

लेकिन इसके लिए किताब को कॉपीराइट के समय के बाद का होना चाहिए. और अगर ऐसा हुआ तो आप ये सभी किताबें अपने स्मार्टफोन पर पढ़ सकते हैं. किताब छापने वाले पब्लिशर कभी कभी गूगल को एक छोटे से हिस्से को ऑनलाइन दिखाने की भी इजाज़त दे देते हैं.

कई सालों से गूगल ने किताबों को स्कैन करने का बीड़ा उठाया है.

गूगल बुक्स किताबों के अलग अलग हिस्सों को लोगों को ऑनलाइन देखने की इजाज़त देता है. अगर देखने वालों को ये पसंद आया तो गूगल उन्हें किताब खरीदने में भी मदद करता है.

दस साल पहले, लेखकों के एक समूह ने गूगल के ऑनलाइन किताब को दिखाने की कोशिश को रोकने की कोशिश की.

चूंकि कॉपीराइट इन लेखकों का था, उनका कहना था कि गूगल ऐसा नहीं कर सकता है. सालों की जद्दोजहद के बाद अब अदालतों ने गूगल की बात मान ली है.

इमेज कॉपीरइट Getty

इस आदेश के बाद अब लोग ऐसी किताबों को ऑनलाइन पढ़ सकेंगे जो अब तक उनकी पहुंच से बाहर थी.

अगर आप चाहें तो अपनी किताब को भी गूगल बुक्स पर शामिल करवा सकते हैं.

लेखक अपनी किताब का पीडीएफ वर्जन गूगल को भेज कर अपनी किताब इसमें शामिल करने की गुज़ारिश कर सकता है.

गूगल लेखकों के साथ उस किताब पढ़ने वालों या जानकारी चाहने वालों के बारे में जानकारी शेयर करता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार