मैसेंजर ऐप से अब लैंडलाइन पर भी कॉल कीजिए

  • 18 जनवरी 2016
इमेज कॉपीरइट

वीचैट और स्काइप में जंग छिड़ गई है. जाने अनजाने में अब व्हाट्सप्प को भी इस जंग में शामिल होना पड़ेगा.

अमरीका, भारत और हांग कांग के बाज़ारों में वीचैट ने अब लैंडलाइन पर भी कॉल करने की सुविधा दे दी है. वीचैट को उम्मीद है कि धीरे धीरे वो और देशों में ऐसी ही कॉलिंग की सुविधा शुरू कर सकता है.

अगर आप वीचैट पर ये सुविधा लेना चाहते हैं तो आपके लिए 99 सेंट यानी क़रीब 65 रुपये आपके वीचैट अकाउंट में डाल दिए जाएंगे. वीचैट सर्विस देने वाली कंपनी टेनसेंट का कहना है कि आप ज़्यादातर देशों में क़रीब 100 मिनट तक बात कर सकेंगे. लेकिन आपको एक हफ़्ते के अंदर ही इस अकाउंट में पैसे को इस्तेमाल कर लेना होगा.

इमेज कॉपीरइट Reuters

जब आप अपने स्मार्टफ़ोन पर वीचैट का ऐप इस्तेमाल करेंगे तो स्क्रीन पर + का आइकन दिखाई देगा. इससे आप 'वीचैट आउट' नाम के सर्विस का फ़ायदा उठा सकते हैं जिससे आप कॉल कर सकते हैं. अगर ये +आइकन आपको नहीं दिखाई देता है तो वीचैट का सबसे नया ऐप इस्तेमाल करना होगा.

वीचैट के इस बाज़ार में आने से उसके 60 करोड़ ग्राहकों के लिए ये बड़ी ख़बर है. स्काइप के क़रीब 35 करोड़ ग्राहक हैं लेकिन अगर व्हाट्सप्प भी इस बाज़ार में उतर जाए तो उसके 100 करोड़ ग्राहकों के लिए बढ़िया होगा. फ़ेसबुक मैसेंजर के भी क़रीब 80 करोड़ ग्राहक हैं.

लैंडलाइन को कॉल करने की सुविधा की शुरुआत कुछ समय पहले स्काइप ने की थी. कंपनियों की नज़र भारत पर है क्योंकि स्मार्टफ़ोन का बाज़ार यहां तेज़ी से बढ़ रहा है. लेकिन अगर ये कंपनियां लैंडलाइन पर फ़ोन करने में मदद करती हैं तो टेलीकॉम कंपनियों को उन्हें पैसे देने होंगे. इसीलिए, ऐसी सुविधा बहुत संभल कर शुरू की जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)