भूकंप से पहले उसकी जानकारी दे देगा ये ऐप

माईशेक इमेज कॉपीरइट others

अमरीका स्थित कैलीफ़ोर्निया के वैज्ञानिकों ने एक ऐसा ऐप तैयार किया है, जिससे भूकंपों पर नज़र रखना आसान हो गया है.

'माईशेक' नाम के इस ऐप से आप आने वाले भूकंपों से सावधान तो रह ही सकते हैं, कुछ हद तक जानमाल का नुक़सान भी रोका जा सकता है.

ये ऐप फ़ोन के मोशन सेंसरों की मदद से धरती के नीचे हो रही किसी भी हलचल का पता लगा लेता है. फ़ोन आपकी जेब या बैग में हो, उस समय भी यह काम करता रहता है.

इस प्रोजेक्ट को चला रहे प्रोफ़ेसर रिचर्ड एलेन ने बीबीसी को बताया कि ऐप बनाने वाले हज़ारों फ़ोन यूज़र्स की मदद से एक डेटा नेटवर्क खड़ा करना चाहते हैं, जो आने वाले भूकंपों से सावधान रहने की चेतावनी भी दे सके.

इस ऐप को वे 'माईशेक डॉट बर्कले डॉट ईडीयू' वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट GETTY IMAGES

ऐलन ने कहा, "ये ऐप आपके फ़ोन के बैकग्राउंड में ख़ामोशी से काम करता रहेगा. जब भी कोई भूकंप आता है, ये उसकी सूचना देगा. ये सूचना हमारे सर्वर को भेजेेगा. सर्वर से हम इसकी तसदीक कर सकते हैं कि क्या कहीं भूकंप आ रहा है और इसके बाद उसकी तीव्रता का पता लगा सकते हैं."

उन्होंने आगे कहा, "भविष्य में हम ये जानकारी अपने यूज़र्स को भेजकर उन्हें आगाह कर पाएंगे और आप ख़ुद हिलने डुलने से पहले ही भूकंप के बारे में जान लेंगे."

यह ऐप हिलने-डुलने की आम हरकत और ज़मीन के नीचे की हलचल में अंतर कर सकता है. ख़तरनाक ज़मीनी हलचल को केंद्र से चलकर एक बड़े भूकंप बनने में कुछ समय लगता है. इस बीच लोग वहां से किसी और जगह पहुँच सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट UC BERKELEY

एलेन कहते हैं, "कुछ सेकेंड की चेतावनी ही सब कुछ है, जो भूकंप के दौरान आपको भागने और जान बचाने के लिए काफ़ी है. अभी तक इस ऐप से 10 किलोमीटर के दायरे में रिक्टर स्केल पर पांच तीव्रता तक के भूकंप की जानकारी मिल सकती है."

बर्कले सीज़्मोलॉजिकल लैबोरेटरी के वैज्ञानिकों का मानना है कि पिछले भूकंपों से पता चला है कि अगर सभी को जानकारी है तो हताहतों की तादाद 50 फीसदी तक घट सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार