आपको नक़ली स्मार्टफ़ोन तो नहीं मिल रहा?

  • 23 मार्च 2016
इमेज कॉपीरइट EPA

आजकल सस्ते स्मार्टफ़ोन की धूम है. हर ब्रांड का अपना मॉडल मौजूद है और जो ब्रांड बाज़ार में पसंद किया जाता है उसके नकली फ़ोन भी मिलते हैं.

कभी-कभी तो ओरिजिनल पैकिंग में भी नक़ली स्मार्टफ़ोन निकल सकते हैं. इसीलिए आपको सावधान रहना ज़रूरी है.

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

जब भी नया स्मार्टफ़ोन ख़रीदें, उसे एक बार चेक ज़रूर कर लें ताकि कहीं ग़लती से आपके हाथ नक़ली स्मार्टफ़ोन न आ जाए. इसे चेक करने के तरीक़ा बहुत आसान है.

सबसे पहले जीएसएम एरीना (www.gsmarena.com) पर जाकर मॉडल का सही नंबर लिख लें. बाज़ार जाने से पहले अगर आप यह काम कर लेंगे, तो आपके लिए बढ़िया होगा.

इमेज कॉपीरइट AP

फ़ोन ख़रीदने से पहले आप जितनी रिसर्च करेंगे, उतना बढ़िया होगा.

जिस स्मार्टफ़ोन के मॉडल पर आपकी नज़र है, उसके फ़ीचर के बारे में सब कुछ जानने की कोशिश करें.

जब आप स्मार्टफ़ोन ख़रीद रहे हैं, तो उसके मॉडल नंबर, ऑपरेटिंग सिस्टम का वर्ज़न और ब्रॉडबैंड वर्ज़न पर नज़र रखें.

एंड्रायड स्मार्टफ़ोन की 'सेटिंग' में जाने के बाद 'अबाउट फ़ोन' में जाकर आप यह पता कर सकते हैं कि ऑपरेटिंग सिस्टम कौन सा इस्तेमाल हो रहा है.

आईफ़ोन पर आप 'सेटिंग' में जाकर 'जनरल' में जाएं और 'अबाउट' चुनकर यह पता कर सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

जब आप उस मेन्यू पर हैं, तो आपको डिवाइस नंबर और ब्रॉडबैंड नंबर भी दिखेगा. जो मॉडल नंबर, ऑपरेटिंग सिस्टम और ब्रॉडबैंड नंबर आपने शुरू में नोट किया था, अब उसे एक बार देख लें.

स्मार्टफ़ोन का IMEI नंबर भी आपको 'अबाउट' या 'अबाउट फ़ोन' में मिल जाएगा.

हर मोबाइल फ़ोन का एक यूनीक IMEI नंबर होता है. एक बार आपको IMEI नंबर मिल गया, उसे आप वेबसाइट पर डालकर चेक कर सकते हैं कि वह स्मार्टफ़ोन ओरिजिनल है या नहीं.

अगर IMEI नंबर सही नहीं तो या तो फ़ोन चोरी का है या नक़ली है. चेक करते समय अगर वेबसाइट पर IMEI नंबर डालने के बाद वह सही नहीं निकलता, तो वह फ़ोन न ख़रीदें.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार