BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
सोमवार, 24 जुलाई, 2006 को 12:06 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
स्टेम कोशिका अनुसंधान को हरी झंडी
 
स्टेम कोशिका
एक स्टेम कोशिका को शरीर के किसी भी अंग की कोशिका में परिवर्तित किया जा सकता है
यूरोपीय संघ ने मानव भ्रूण से ली गई स्टेम कोशिकाओं से जुड़े रिसर्च को आर्थिक सहायता कुछ शर्तों के साथ जारी रखने का फ़ैसला किया है.

संघ के मंत्रियों की बैठक में फ़ैसला किया गया कि मानव भ्रूण से ली गई उन स्टेम कोशिकाओं के ज़रिए होने वाले अनुसंधान को ही वित्तीय मदद दी जाएगी जो पहले से उपलब्ध हैं.

यूरोपीय संघ ने ये भी स्पष्ट किया है कि वैसे अनुसंधान को मदद नहीं दी जाएगी जिसमें मानव भ्रूण के नष्ट होने का ख़तरा हो.

वैज्ञानिकों का मानना है कि स्टेम कोशिकाएँ कई असाध्य मानी जाने वाली बीमारियों के उपचार में काम आ सकती हैं.

पिछले सप्ताह अमरीकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने मानव भ्रूण से ली गई स्टेम कोशिकाओं से जुड़े अनुसंधान को सरकारी मदद बढ़ाने के संसद के फ़ैसले को वीटो कर दिया था.

विवाद में कौन किस तरफ़
विरोध: ऑस्ट्रिया, जर्मनी, इटली, लग्ज़मबर्ग, माल्टा और पोलैंड
समर्थन: बेल्जियम, फ़िनलैंड, स्पेन, स्वीडन, ब्रिटेन

यूरोपीय संघ में जर्मनी और पोलैंड जैसे देश स्टेम कोशिकाओं से जुड़े अनुसंधान को संघ से आर्थिक सहायता दिए जाने के ख़िलाफ़ रहे हैं.

हालाँकि ब्रिटेन समेत कई देश स्टेम कोशिका अनुसंधान के प्रबल पक्षधर हैं.

चमत्कारी कोशिकाएँ

स्टेम कोशिकाओं से जुड़े अनुसंधान के विरोधियों का कहना है कि चूँकि ऐसी कोशिकाएँ मानव भ्रूण से ली जाती हैं जिसके पूर्ण मानव में विकसति होने की संभावनाएँ होती हैं, इसलिए इनका समर्थन नहीं किया जा सकता.

स्टेम कोशिकाओं ऐसी कोशिकाओं को कहा जाता है जिनमें शरीर के किसी भी अंग की कोशिकाओं के रूप में विकसित होने की क्षमता पाई जाती है.

रिसर्च कार्य में स्टेम कोशिकाओं आम तौर पर प्रजनन संबंधी उपचार के दौरान उपयोग में लाए गए मानव भ्रूण से ली जाती हैं, लेकिन उन कोशिकाओं के निकाले जाने के बाद भ्रूण नष्ट हो जाता है.

 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
इंटरनेट लिंक्स
बीबीसी बाहरी वेबसाइट की विषय सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है.
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>