BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
खगोलशास्त्रियों ने तलाशा नया ग्रह
 
ग्रह
नया ग्रह पृथ्वी से 45 गुना भारी है
अमरीका के खगोलशास्त्रियों ने एक नए ग्रह की तलाश की है. यह नया ग्रह पृथ्वी से 41 प्रकाशवर्ष दूर है और एक सितारे की परिक्रमा करता है.

इस खोज के साथ ही उस सितारे की परिक्रमा करने वाले ग्रहों की संख्या पाँच हो गई है.

55 कैंक्री नाम के इस सितारे का सौरमंडल हमारे अपने सौरमंडल से अलावा इकलौता इतना बड़ा सौरमंडल है. इसमें अब तक पाँच ग्रहों का पता चल चुका है.

खगोलशास्त्री अब तक हमारे अपने सौरमंडल के बाहर 250 ग्रहों की खोज कर चुके हैं.

इस नए ग्रह की खोज करने वाले दल ने अब तक सबसे अधिक संख्या में नए ग्रहों की तलाश की है.

यह जो नया ग्रह खोजा गया है, उसके बारे में खगोलशास्त्रियों का कहना है कि यह गैसीय ग्रह है जो पृथ्वी से 45 गुना भारी है और इसका तापमान बहुत अधिक नहीं है.

सौरमंडल

खगोलशास्त्रियों ने कहा है कि यदि इस ग्रह का कोई चंद्रमा हुआ जिसमें चट्टानें हैं तो वे सिद्धांतरुप में कह सकेंगे कि वहाँ पानी हो सकता है.

हालांकि यह एक बड़ी जानकारी है जिसकी चाह वैज्ञानिकों को ज़रुर होगी.

 हमारी मौजूदा तकनीक सिर्फ़ वृहस्पति और शनि जैसे बड़े ग्रहों को ही दिखा सकती है और यह जानने का तरीक़ा अभी हमारे पास नहीं है कि वहाँ क्या है
 
ज्योफ़ मर्सी, खोज दल के प्रमुख

उनका कहना है कि पाँच ग्रहों वाला यह सौरमंडल हमारे अपने सौरमंडल से बहुत मिलता जुलता है.

पाँचों ग्रह उस सितारे की परिक्रमा करते हैं जो हमारे अपने सूर्य जितना पुराना और उतना ही बड़ा है. वह भी सूर्य की तरह गैसों से भरा है.

इन पाँचों ग्रहों में से एक हमारे सौरमंडल के वृहस्पति ग्रह से चार गुना भारी है और इसकी कक्षा वृहस्पति की तरह ही है.

जो बात अब तक वैज्ञानिकों को नहीं पता चली है वह यह कि क्या इस सौर मंडल में भी पृथ्वी और शुक्र की तरह चट्टानों से भरा कोई ग्रह भी है?

यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया, बर्कले के प्रोफ़ेसर ज्योफ़ मर्सी, जो इस खोज दल के प्रमुख थे, का कहना है कि यह जानना सिर्फ़ समय और तकनीक का मामला है.

वे कहते हैं, "हमारी मौजूदा तकनीक सिर्फ़ वृहस्पति और शनि जैसे बड़े ग्रहों को ही दिखा सकती है और यह जानने का तरीक़ा अभी हमारे पास नहीं है कि वहाँ क्या है."

वे कहते हैं कि अभी तो वहाँ छोटे ग्रहों को देखना भी संभव नहीं है जो पृथ्वी के आकार के हैं.

हालांकि 55 कैंक्री नाम के सौर मंडल के उस मुखिया को साधारण दूरबीन से भी देखा जा सकता है, अगर आप साल के सही समय पर उसे देखने की कोशिश कर रहे हैं.

 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
पृथ्वी जैसे एक और ग्रह की खोज
25 अप्रैल, 2007 | विज्ञान
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>