BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
मंगलवार, 08 जनवरी, 2008 को 14:50 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
विटामिन-डी की कमी बढ़ा सकता है हृदय रोग
 
सूर्य की रोशनी
में विटामिन डी की मात्रा होती है.
यदि आप के शरीर में विटामिन-डी की मात्रा बहुत कम है तो इससे हृदय संबंधी रोगों के होने का ख़तरा बढ़ सकता है. हाल ही में अमरीका में हुए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है.

हारवर्ड मेडिकल स्कूल के शोधकर्ताओं के एक दल का कहना है कि यह ख़तरा उन लोगों में ज़्यादा होता है जो उच्च रक्तचाप से पीड़ित हैं.

'ब्रिटिश हार्ट फ़ाउंडेशन' के एक प्रवक्ता का कहना है विटामिन-डी की कमी किस तरह से हृदय संबंधी रोगों को बढ़ाती है इस संबंध में और जानकारी की ज़रूरत है.

आम तौर से धूप सेंकने, अंडे और मछलियाँ, ख़ास तौर से जिनमें तेल की मात्रा अधिक होती है, खाने से विटामिन डी मिलता है.

 यह अभी तक साबित नहीं हो पाया है कि विटामिन- डी की कमी वास्तव में शरीर में हृदय संबंधी रोगों के होने के ख़तरे को बढ़ाता है.
 
शोध प्रमुख, डॉ थॉमस वांग

उम्रदराज़ लोगों, गर्भवती महिलाओं और वैसे लोगों में जो ख़ुद को ज़्यादा कपड़ों से ढक कर रखते हैं, विटामिन- डी का अभाव होता है.

विटामिन- डी की कमी से हड्डियों से संबंधित कई बीमारियों के होने का ख़तरा रहता है.

वर्ष 1996 में शुरू हुए इस शोध में 59 वर्ष के औसत आयु के 1700 से भी ज़्यादा लोगों का अध्ययन किया गया.

उनके शरीर में मौज़ूद विटामिन- डी के स्तरों को सात सालों तक जाँचा-परखा गया.

उच्च रक्तचाप

अध्ययन के मुताबिक जिनके रक्त में विटामिन- डी की मात्रा 15 नैनो ग्राम प्रति मिलिमीटर से कम थी उन्हें हृदय गति के रूकने, हृदय के काम नहीं करने और हृदय संबंधी ‘स्ट्रोक’ होने का ख़तरा ज़्यादा रहता है.

साथ ही उन लोगों में हृदय संबंधी ज़्यादा बीमारी देखी गई जो लोग उच्च रक्त चाप से भी पीड़ित थे.

शोधकर्ताओं का कहना है कि चूँकि विटीमिन- डी को ग्रहण करने वाले तत्व हृदय के स्नायु और रक्त कोशिकाओं में पाए जाते हैं इस वज़ह से विटामिन- डी की कम मात्रा हृदय संबंधी रोगों को बढ़ाने में सहायक हो सकती है.

लेकिन इस शोध के प्रमुख डॉक्टर थॉमस वांग का कहना है, "यह अभी तक साबित नहीं हो पाया है कि विटामिन- डी की कमी वास्तव में शरीर में हृदय संबंधी रोगों के होने के ख़तरे को बढ़ाता है."

उन्होंने कहा कि इसके लिए एक बड़े स्तर पर शोध करने की ज़रूरत है जिससे यह पता लग सके कि विटामिन- डी की मात्रा के सुधार से हृदय संबंधी बीमीरियों को ठीक किया जा सकता है.

विभिन्न विटामिनों का हृदय स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभावों के सिलसिले में पूर्व में हुए अध्ययनों के परिणाम सकारात्मक नहीं रहे हैं.

 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>