पाक को 'ऑफर' देने पर काटजू को पड़ी गालियाँ

  • 27 सितंबर 2016

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कडेय काटजू के 'कश्मीर के साथ बिहार का प्रस्ताव' देने संबंधी फ़ेसबुक पोस्ट ने सोशल मीडिया पर बवाल खड़ा कर दिया है.

उनके इस पोस्ट को लेकर कई लोगों ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. यहाँ तक कि काटजू के लिए अपशब्दों तक का इस्तेमाल किया गया है. हालाँकि काटजू ने बाद में एक और पोस्ट में कहा कि उन्होंने तो मजाक में ऐसा कहा था.

काटजू ने फ़ेसबुक पर लिखा था, "पाकिस्तानियो, चलो एक बार में ही अपने सारे विवाद खत्म कर लेते हैं. हम आपको कश्मीर देते हैं, लेकिन उसकी एक शर्त है कि आपको बिहार भी लेना पड़ेगा. यह एक पैकेज डील है. इसके लिए आपको पूरा पैकेज लेना होगा या फिर आपको कुछ भी नहीं मिलेगा...हम आपको सिर्फ़ कश्मीर नहीं देंगे."

इमेज कॉपीरइट KATJU FB

काटजू ने एक काल्पनिक ख़्याल व्यक्त करते हुए, आगे लिखा, "अटल बिहारी वाजपेयी ने आगरा सम्मेलन के दौरान परवेज मुशर्रफ के सामने ये डील रखी थी, लेकिन उन्होंने मना कर दिया था. अब यह ऑफर फिर से आया है"

काटजू के इस पोस्ट पर तीखी प्रतिक्रियाएं आई हैं. विक्की झा ने लिखा, "ये बिहार को इस नज़रिये से देखने की काटजू की मानसिकता दिखाता है."

सुमन शेखर लिखते हैं, "अगर आपको अखबारों की सुर्खियां ही बनना है तो और भी तरीके हैं."

इमेज कॉपीरइट KATJU FB

विनोद कुमार मिश्रा ने लिखा, "मेरा मानना है कि भारत को कश्मीर और बिहार के साथ काटजू को भी एक्सपोर्ट कर देना चाहिए. क्योंकि वो इतने प्रतिभावान हैं कि बिहारियों की मदद से वहाँ से कश्मीर समेत पूरे पाकिस्तान को भारत में इंपोर्ट करा देंगे."

इन तीखी प्रतिक्रियाओं के बाद काटजू ने लिखा कि 'जिस तरह की गालियाँ आ रही हैं उससे तो गालियों का कंपीटीशन कराया जाना चाहिए.'

काटजू ने एक और पोस्ट में लिखा, "जनता दल यूनाइटेड के महासचिव केसी त्यागी ने कहा है कि बिहार पर मेरे बयान के लिए मुझ पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा होना चाहिए. मेरे पास और अच्छी सलाह है. मुझे पागलों के लिए कानून के तहत मुकदमा चलाया जाए."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए