कैफ़ के सूर्य नमस्कार पर क्यों मचा बवाल?

मोहम्मद कैफ

पूर्व इंडियन क्रिकेटर मोहम्मद कैफ़ का सूर्य नमस्कार करना कुछ लोगों को अखर रहा है.

कैफ़ ने 30 दिसंबर को सूर्य नमस्कार की अपनी तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा था, ''शारीरिक संरचना के लिए सूर्य नमस्कार संपूर्ण व्यायाम है, जिसे करने के लिए किसी उपकरण की ज़रूरत नहीं पड़ती.''

इस ट्वीट पर कई लोगों ने मोहम्मद कैफ़ को ट्रोल किया.

पटेल मोहम्मद ने कैफ़ को ट्वीट किया, ''सूर्य नमस्कार इस्लाम में 100 फ़ीसदी मना है. हम अल्लाह के सिवा किसी के आगे नहीं झुकते हैं.''

इफ्तेखार ने लिखा, ''सूर्य नमस्कार हमारी संस्कृति, समाज और परंपराओं से विपरीत है. आप ये सब क्यों पोस्ट कर रहे हैं.''

ये ट्रोल इतना ज़्यादा हुआ है कि कैफ ने ट्वीट कर अपना पक्ष रखा.

कैफ़ ने चार तस्वीरों के साथ ट्वीट किया, ''इन चारों तस्वीरों में मेरे दिल में अल्लाह थे. मैं ये बात समझ नहीं पा रहा हूं कि सूर्य नमस्कार या जिम का धर्म से क्या वास्ता है. ये सबके लिए फ़ायदेमंद है.''

कैफ़ के इस ट्वीट पर कुछ लोगों ने अपना समर्थन भी ज़ाहिर किया.

तौक़ीर ने लिखा, ''सब नीयत की बात है. ऐसे लोगों को इग्नोर कीजिए. धर्म हमेशा आपके और अल्लाह के बीच रहेगा.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)