कट्टरपंथियों से घिरी मुस्कुराती मुस्लिम लड़की

  • 10 अप्रैल 2017
इमेज कॉपीरइट PA
Image caption साफ़िया ख़ान की ये तस्वीर वायरल हो गई है.

कट्टरपंथी समूह इंग्लिश डिफेंस लीग (ईडीएल) के सामने मुस्कुराते हुए खड़ी एक ब्रितानी मुस्लिम युवती की तस्वीर वायरल हो गई है.

साफ़िया ख़ान ने बीबीसी को बताया है कि ये तस्वीर बर्मिंघम में उस वक़्त ली गई जब वो प्रदर्शनकारियों के बीच घिरी एक युवती के बचाव में बीच में आ गई थीं.

शनिवार को हुए प्रदर्शन के दौरान प्रेस एसोसिएशन के फ़ोटोग्राफ़र की ली गई इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर हज़ारों बार शेयर किया जा चुका है.

साफ़िया ख़ान ने बीबीसी से कहा कि जब उन्होंने एक युवती को 25 लोगों से घिरा पाया तो ख़ुद को प्रदर्शनकारियों के बीच जाने से नहीं रोक पाईं.

वो कहती हैं, "मुझे अपने शहर में किसी को इस तरह घेरा जाना पसंद नहीं है."

साफ़िया का कहना है कि वो किसी प्रदर्शन का हिस्सा नहीं थीं और तस्वीर को हज़ारों पर रीट्वीट किए जाने पर चकित हैं.

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption ईडीएल ने लंदन में हुए हमलों के विरोध में बर्मिंघम में शनिवार को प्रदर्शन किया था.

उन्होंने बीबीसी से कहा कि शुरुआत में उन्हें प्रदर्शन से कोई मतलह नहीं था, लेकिन तभी एक अन्य महिला ईडीएल प्रदर्शनकारियों को इस्लाम विरोधी कहते हुए चिल्लाई.

वो कहती हैं, "ईडीएल के क़रीब 25 प्रदर्शनकारियों ने उस महिला को चारों ओर से घेर लिया. मैं आगे बढ़ी और मैंने ख़ुद को उस महिला का समर्थक बताया और उनका विरोध किया."

इसके बाद प्रदर्शनकारी साफ़िया ख़ान के इर्द-गिर्द जमा हो गए. जिस वक़्त प्रदर्शनकारी उग्र हो रहे थे साफ़िया जेब में हाथ डाले मुस्कुरा रहीं थीं.

प्रेस एसोसिएशन के फ़ोटो पत्रकार ने इस सीन को कैमरे में क़ैद कर लिया. ख़ान कहती हैं कि उन्हें ज़रा भी डर नहीं लगा था.

साफ़िया ख़ान की इस तस्वीर को पियर्स मॉर्गन ने सप्ताह की बेहतरीन तस्वीर बताते हुए ट्वीट किया.

बर्मिंघम के सांसद जेस फ़िलिप्स ने भी इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर साझा किया.

बीबीसी को इस घटनाक्रम पर ईडीएल की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे