गुरमीत राम रहीम पर सोशल मीडिया: 'मोदी जी के ट्वीट का इंतज़ार है जिसमें वो...'

गुरमीत राम रहीम सिंह इमेज कॉपीरइट PUNIT PARANJPE/AFP/Getty Images

सीबीआई की स्पेशल अदालत ने डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को बलात्कार मामले में दोषी क़रार दिया है.

कोर्ट ने सज़ा सुनाने के लिए 28 अगस्त की तारीख़ मुकर्रर की है. इससे पहले शुक्रवार दोपहर से ही भारतीय सोशल मीडिया में #रामरहीमसिंह ट्रेंड कर रहा है. सोशल मीडिया पर कई लोग हैं जो इस पर अपनी राय रख रहे हैं.

पंचकुला: राम रहीम रेप केस में दोषी क़रार

अंजुम ख़ान ने लिखा, "हर कोई हथियार ले कर पहुंचा है कोई भी उनकी जीत के लिए मिठाई का डिब्बा ले कर नहीं. क्योंकि सभी को पता है कि सच क्या है."

एनएमरूपक लिखते हैं, "मामले में न्यायालय का फ़ैसला न्यायालय में जनता के विश्वास को मज़बूत करेगा कि संविधान से ऊपर कोई नहीं."

अमरेंद्र आनंद ने लिखा, "आसाराम ने कोर्ट का शुक्रिया किया कि उन्होंने उनके साथी को उनका साथ देने के लिए जेल भेजा."

एडीवी_आशीगोस ने लिखा, "रामरहीमसिंह नाम याद रखना... जस्टिस जगदीप सिंह. भारतीय न्याय व्यवस्था में हमारा भरोसा बनाए रखने के लिए शुक्रिया."

अभिषेक पंवार ने लिखा, "क़ानून के सामने सभी एक हैं, इस बात को साबित करने वाला बड़ा फ़ैसला. चाहे जो भी हो न्याय मिलेगा."

मनीष ने लिखा, "भगवान गणेश ने गॉडमैन को गणेश चतुर्थी के दिन सज़ा सुनाई है."

निर्भय कुमार ने लिखा, "गणेश चतुर्थी के दिन होने वाला सबसे बढ़िया चीज़ ये है. गुरमीत को एक महिला की भावना के साथ खिलवाड़ करने का दोषी पाया गया."

तेजस कुम्हार ने लिखा, "मोदी जी के ट्वीट का इंतज़ार है जिसमें वो न्याय व्यवस्था का धन्यवाद कर रहे हों."

सागरकॉज़्म नाम के एक ट्विटर यूज़र ने लिखा- भारतीय न्याय व्यवस्था ने तीन दिन में किए तीन बड़े फ़ैसले- राम रहीम सिंह, निजता का अधिकार और ट्रिपल तलाक.

सोशल मीडिया पर कई लोग गुरमीत राम रहीम सिंह का समर्थन करते भी दिख रहे हैं.

शेरीओम ने लिखा, "संत राम रहीम अपने डेरे की राजनीति के शिकार हैं. उनका अच्छा मन और अच्छे काम उनके साथ रहेंगे. यही करोड़ों भक्तों के संबल भी है."

नवीन नागर इंसा ने लिखा, "बाबा राम रहीम बहुत ही अच्छे चरित्र के संत हैं. उन पर लगाए गए सभी आरोप झूठे हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे