सोशल: गुरमीत राम रहीम सिंह पर लोग बोले, रेप करना कैसी समाजसेवा

  • 28 अगस्त 2017
राम रहीम, सिरसा, 10 साल की सज़ा इमेज कॉपीरइट Getty Images

बलात्कार के मामले में दोषी क़रार दिए गए गुरमीत राम रहीम सिंह को 20 साल की सज़ा सुनाई गई है.

हरियाणा में रोहतक की सुनारिया जेल के अंदर लगी विशेष अदालत में जज जगदीप सिंह ने उन्हें सज़ा सुनाई.

इससे पहले 25 अगस्त को पंचकुला में सीबीआई की विशेष अदालत ने गुरमीत राम रहीम सिंह को साल 2002 में दो महिलाओं से बलात्कार का दोषी माना था.

रोहतक: गुरमीत राम रहीम सिंह को बलात्कार मामले में

सोशल मीडिया पर गुरमीत राम रहीम सिंह शीर्ष ट्रेंड में शामिल रहा और लोग इस फ़ैसले पर अपनी-अपनी राय ज़ाहिर कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Twitter

सर रवींद्र जडेजा हैंडल से लिखा गया है, ''राम रहीम सोशल वर्कर हैं इसलिए जज को थोड़ा नरम होना चाहिए. क्या बकवास है ये? सोशल वर्क आपको रेप करने का अधिकार नहीं देता.''

सिरसा: डेरे के भीतर गुस्सा और डर भी

इमेज कॉपीरइट Twitter

आर्ची लिखती हैं कि रेपिस्ट बाबा रो रहा था, दया की भीख मांग रहा था, हटने को राज़ी नहीं था. उसे ज़बरदस्ती खींचकर ले जाना पड़ा.

इमेज कॉपीरइट Twitter

कुमार अभि ने ट्वीट करके अपना गुस्सा ज़ाहिर किया है. वो लिखते हैं कि वह सिर्फ़ रेपिस्ट नहीं है. वह हरियाणा में हुई सैकड़ों मौतों का ज़िम्मेदार भी है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

कौशिक ने बाबा के नाम के पांच भागों में बांटा है और सज़ा का बंटवारा किया है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

नूरिया लिखती हैं कि आश्चर्य की बात है कि रेप कब से सोशल वर्क की श्रेणी में आ गया?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे