ताजमहल पर संगीत सोम के विवादित बयान से बवाल, ओवैसी ने उठाया सवाल

  • 16 अक्तूबर 2017
संगीत सोम, ताजमहल इमेज कॉपीरइट Twitter/som_sangeet

बीजेपी विधायक संगीत सोम ने ताजमहल को देश के इतिहास का हिस्सा मानने पर आपत्ति जताई है. मेरठ में एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ''कैसा इतिहास? उसको बनाने वाला हिंदुओं को मिटाना चाहता था.''

संगीत सोम कहते हैं, ''कुछ लोगों को दर्द हुआ कि आगरा का ताजमहल ऐतिहासिक स्थलों में से निकाल दिया गया है. कैसा इतिहास, कहां का इतिहास कौन सा इतिहास. उसको बनाने वाला हिंदुओं का सफाया करना चाहता था.''

उन्होंने कहा, ''ऐसे लोगों का नाम अगर इतिहास में होगा तो ये दुर्भाग्य की बात है. मैं गारंटी के साथ आपसे कहता हूं इतिहास बदला जाएगा. इतिहास बदल रहा है. पिछले बहुत सालों में देश और उत्तर प्रदेश में जो इतिहास बिगाड़ने का काम हुआ है, आज हिन्दुस्तान और उत्तर प्रदेश की सरकार उस इतिहास को किताबों में लाने का काम कर रही है.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बीजेपी विधायक ने कहा, ''हमारी सरकार राम से लेकर महाराणा प्रताप और शिवाजी तक का इतिहास किताबों में लाने का काम कर रही है. और जो कलंक कथा किताबों में लिखी गई है, वो चाहे अकबर के बारे में हो, औरंगजेब के बारे में हो, चाहे बाबर हो उनके इतिहास को निकालने का काम कर रही है सरकार.''

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तिहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) के नेता और सांसद असदउद्दीन ओवैसी ने संगीत सोम के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

उन्होंने ट्वीट किया, ''उन्हीं 'देशद्रोहियों' ने लाल किला भी बनवाया था. क्या (प्रधानमंत्री नरेंद्र) मोदी वहां से तिरंगा फहराना भी छोड़ देंगे? क्या मोदी और योगी (आदित्यनाथ) घरेलू और विदेशी पर्यटकों को ताज महल ना घूमने का हुक़्म दे सकते हैं?''

ओवैसी ने ये भी लिखा, ''दिल्ली में हैदराबाद हाउस भी 'देशद्रोही' ने बनवाया था. क्या मोदी वहां विदेशी मेहमानों की मेज़बानी करना छोड़ देंगे.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

संगीत सोम के बयान को लेकर लोगों सोशल मीडिया पर खूब प्रतिक्रियाएं दी हैं. ट्विटर और फ़ेसबुक पर लोगों ने बीजेपी विधायक के बयान पर अलग-अलग अंदाज़ में तंज भी कसे.

@kousiksengupta नाम के हैंडल से ट्वीट किया गया, ''ताजमहल दुनिया के सात अजूबों में से एक है. जल्द ही बीजेपी को आठवें अजूबे के तौर पर जोड़ा जाएगा.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

ट्विटर पर ही नरेंद्र तनेजा लिखते हैं, ''ताजमहल, भारत का गौरव ताजमहल है. भारत खुशनसीब है कि इतने अजूबों, इमारतों और ऐतिहासिक जगहों वाला देश है.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

@syedhinafaraz नाम के हैंडल ने ट्वीट करके सवाल उठाया, ''अगर ताजमहल देशद्रोहियों ने बनाया है और संगीत सोम इसे इतिहास की किताबों से हटाना चाहते हैं तो लाल क़िला के बारे में क्या ख्याल है? तिरंगा नहीं फहराएंगे?''

इमेज कॉपीरइट Twitter

सोनम महाजन लिखती हैं, ''मैं संगीत सोम की बात से सहमत हूं. ताजमहल वाकई हमारे मूल्यों पर धब्बा है. इसे बनाने वाले ने हिंदुओं को सताया और उनके मंदिरों को लूटा, मजदूरों के हाथ काटे.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

फ़ेसबुक पर शाहबाज़ हैदर अली लिखते हैं, ''ताजमहल देश के लिए कलंक है और संगीत सोम भारत रत्न. हद है मज़ाक की भी...''

इमेज कॉपीरइट Facebook

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे