ख़ूबसूरत कब्रिस्तान है ताजमहल, घर में रखना अशुभ: अनिल विज

  • 21 अक्तूबर 2017
ताजमहल. अनिल विज, बीजेपी, कब्रिस्तान, हिंदू, मुस्लिम इमेज कॉपीरइट Getty Images

अगर आपको लगता है कि ताजमहल पर होने वाली बयानबाजी अब बंद हो गई है तो आप ग़लत हैं.

हरियाणा सरकार में मंत्री अनिल विज का कहना है कि ताजमहल एक ख़ूबसूरत कब्रिस्तान है और इसीलिए घरों में ताजमहल का मॉडल रखना अशुभ मानते हैं.

इमेज कॉपीरइट Facebook

विज ने यह बात अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कही है. जाहिर है, इस पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आनी तय थीं.

उनके ट्वीट के जवाब में लोग धड़ाधड़ ट्वीट करने लगे. एक यूज़र ने कहा,''ताजमहल एक भारत की मिसाल है. भारत को ताजमहल से लोग पहचानते हैं.''

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter

एस. एस. बिश्नोई ने ट्वीट किया, ''कब्रिस्तान-श्मशान के अलावा कोई और मुद्दा दिखाई नहीं देता क्या? जनता की तकलीफ समझो वर्ना चुनाव में तुम्हारी राजनीति की कब्र जरूर खोद देगी.''

'क्या मोदी लाल किला से तिरंगा फहराना छोड़ देंगे?'

इमेज कॉपीरइट Twitter

एक अन्य ट्विटर यूज़र ने लिखा,''प्रेमी जोड़ों के घर में जाके देखो. मोहब्बत की निशानी मिलेगा.'' कंवलजीत सिंह ने तंज किया,''इसलिए यूपी के हर सरकारी दफ़्तर में है.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

संजय कुमार ने चुटकी ली,''मंदिर या कब्रिस्तान? एक बात पर रहो यार.'' रवि तिवारी ने पूछा,''हद हो गई है. इस प्रकार के ट्वीट करने का मतलब क्या है? सुर्खिया में रहना चाहते हैं सिर्फ.''

क्या शाहजहां काला ताजमहल बनवाना चाहते थे?

इमेज कॉपीरइट Twitter

कुछ दिनों पहले बीजेपी विधायक संगीत सोम ने ताजमहल को भारत इतिहास का हिस्सा मानने पर आपत्ति जताई थी. उन्होंने कहा था,''कैसा इतिहास? उसको बनाने वाला हिंदुओं को मिटाना चाहता था.''

इस पर काफी विवाद हुआ था और खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस बारे में सफाई देनी पड़ी थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे