सोशल: 'आज की सीख, घपला करो तो बड़ा करो!'

  • 21 दिसंबर 2017
tower इमेज कॉपीरइट Getty Images

2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में अभियुक्त पूर्व दूरसंचार मंत्री ए. राजा और कनिमोड़ी समेत सभी 17 लोगों को बरी किया गया है.

अदालत का फ़ैसला आने के बाद सोशल मीडिया पर चर्चा का दौर शुरू हो गया.

इस मामले के 17 आरोपियों में 14 व्यक्ति और तीन कंपनियां (रिलायंस टेलिकॉम, स्वान टेलिकॉम, यूनिटेक) शामिल थीं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

एक टि्वटर यूज़र ने लिखा है, ''आज की सीख, घपला करो तो बड़ा करो.''

पुष्पराज ने ट्वीट किया, ''ये ए राजा का 'वो तो मेरा ड्राइवर था' वाला पल है.''

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter

2जी घोटाला साल 2010 में सामने आया जब भारत के महालेखाकार और नियंत्रक (कैग) ने अपनी एक रिपोर्ट में साल 2008 में किए गए स्पेक्ट्रम आवंटन पर सवाल खड़े किए थे.

सुरजीत कुमार यादव ने लिखा है, ''2जी घोटाले के सभी आरोपियों को कोर्ट ने बरी कर दिया है. तो क्या कपिल सिब्बल की ज़ीरो लॉस थ्योरी सही थी? मैं पूछ रहा हूं बस.''

2 जी घोटाले में सभी आरोपी बरी, दिल्ली की अदालत का फ़ैसला

आख़िर क्या था 2 जी घोटाला और किन किन पर था आरोप?

कंपनियों को नीलामी की बजाए पहले आओ और पहले पाओ की नीति पर लाइसेंस दिए गए थे, जिसमें भारत के महालेखाकार और नियंत्रक के अनुसार सरकारी खजाने को अनुमानत एक लाख 76 हजार करोड़ रुपयों का नुक़सान हुआ था.

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter

सुजीत अग्रवाल ने कहा, ''आरुषि तलवाल के हत्यारों ने 2जी घोटाला किया है.''

आशीष ने लिखा है, ''1.7 लाख करोड़ हवा में चले गए. किसी ने 2जी घोटाला नहीं किया है, ये हवाई तरंगें 2जी घोटाले के लिए ज़िम्मेदार थीं.''

इस पूरे घोटाले का ठीकरा डीएमके नेता ए राजा के सिर फोड़ा जाता है और उनका बरी होना पार्टी के लिए राहत की ख़बर है.

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter

कलम वाली बाई हैंडल से लिखा गया है, ''मेरा नाम ही राज पाटिल राजा और राजा को कोई कोर्ट सज़ा नहीं दे सकती.''

के एन भरत ने ट्वीट किया है, ''जब कोई 2जी घोटाले में दोषी ही नहीं है तो लाइसेंस क्यों रद्द किए गए थे.''

कह के पहनो हैंडल से लिखा गया है, ''2जी घोटाले में आया फ़ैसला उन लोगों के लिए नैतिक जीत है जो भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ लड़ रहे हैं.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

यूपीए सरकार में कानून मंत्री रहे कपिल सिब्बल ने इस फ़ैसले के बाद कहा कि उनकी ज़ीरो लॉस वाली थ्योरी सही साबित हुई है.

जब कैग ने रिपोर्ट में कहा था कि ए राजा की कार्यप्रणाली के कारण देश को 1.76 लाख करोड़ रुपए का घाटा हुआ है, तो सिब्बल ने कहा था कि ये नुकसान वास्तविक नहीं है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आज़ाद ने राज्यसभा ने कहा कि जिस घोटाले की वजह से हमारी सरकार गई, वो कभी हुआ ही नहीं था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे