107 साला दादी की 'हैंडसम' राहुल गांधी से प्यार की कहानी!

  • 26 दिसंबर 2017
दिपाली की दादी इमेज कॉपीरइट Twitter

एक तरफ हैं 107 साल की दादी, जो कई पीढ़ियां देख चुकी हैं. दूसरी तरफ हैं 47 साल के कांग्रेस के युवा अध्यक्ष राहुल गांधी. उम्र का फासला 60 साल.

107 साल की ये बूढ़ी दादी सावनों का शतक देख चुकी हैं. लेकिन एक तमन्ना बाकी रह गई थी, कांग्रेस के नए अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाक़ात.

दीपाली सिंकद ने ट्विटर पर अपनी दादी की केक काटते हुए एक तस्वीर पोस्ट की. इस ट्वीट में दीपाली लिखती हैं, ''आज मेरी दादी का 107वां जन्मदिन है. उनकी बस एक ख्वाहिश है- राहुल गांधी से मुलाक़ात. मैं जब इसकी वजह पूछती हूं तो वो बताती हैं- वो हैंडसम है.''

इस क्यूट सी बात को कहने वाली दादी पर शायद लोगों की नज़र न जाती. अगर राहुल गांधी इन दादी पर ट्वीट न करते.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ''दीपाली, अपनी खूबसूरत दादी को जन्मदिन और क्रिसमस की ढेरों शुभकामनाएं दीजिए. दादी को मेरी तरफ से गले भी लगाइए. प्यार, राहुल.''

राहुल के इस ट्वीट पर दिपाली लिखती हैं, ''राहुल ने दिन बना दिया. दादी मुस्कुरा रही हैं. राहुल गांधी ने मेरी दादी को जन्मदिन की मुबारकबाद दी. ये होती है सच्ची मानवता. आप सबकी दुआ के लिए शुक्रिया.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images, twitter

राहुल की दरियादिली या पीआर एक्सरसाइज?

राहुल गांधी का यूं ट्वीट कर 107 साल की दादी को बधाई दिए जाने का कुछ लोग समर्थन कर रहे हैं तो कुछ लोग शक ज़ाहिर कर रहे हैं.

ट्विटर हैंडल @winwinashwin ने लिखा, ''मैं राहुल गांधी का फैन नहीं हूं लेकिन दुआ करता हूं कि दादी से उनकी मुलाकात हो जाए. दुआ है कि ये साल दादी के लिए खुशियों और तंदुरुस्ती भरा हो.''

द स्किन डॉक्टर नाम के यूज़र ने ट्वीट किया, ''भगवान दादी को सलामत रखे लेकिन ये राहुल गांधी की पीआर ड्राइव है. तस्वीर ट्वीट करने वाली महिला कांग्रेस की सोशल मीडिया टीम की सदस्य है. लोग चाहें तो इन महिला का ट्विटर अकाउंट देख सकते हैं.''

दरअसल दिपाली की ट्विटर फीड पर अगर गौर करें तो इसमें कांग्रेस के समर्थन और बीजेपी के विरोध वाले कई ट्वीट्स नज़र आते हैं.

हरीश भी लिखते हैं, ''ये पीआर वालों की नौटंकी है. ये महिला कर्नाटक कांग्रेस से जुड़ी हुई है.''

राहुल के इस ट्वीट पर राम जेठमलानी नाम के पैरोडी अकाउंट से लिखा गया, ''भाई कभी हम लोगों को भी रिप्लाई दे दिया करो. कब से ट्रोल कर रहे हैं."

'मुझे गुजरात ने बहुत सिखाया है'

राहुल गांधी के पक्ष में क्या और चुनौतियां कैसी?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए