राहुल गांधी की जैकेट क्या वाक़ई 65 हज़ार की है?

  • 31 जनवरी 2018
जैकेट इमेज कॉपीरइट Twitter

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ड्रेसिंग सेंस और कपड़ों की चर्चा होती रहती है लेकिन उनके एक सूट ने पूरे देश में सुर्खियां बटोरी थीं. सूट इसलिए ख़ास था क्योंकि इस पर सुनहरे तारों से नरेंद्र मोदी लिखा था जो दूर से स्ट्राइप की तरह दिख रहा था.

इस सूट की नीलामी हुई और सूरत के हीरा कारोबारी लालजीभाई पटेल ने इसे 4.31 करोड़ रुपए का ख़रीदा.

मोदी के इस सूट के बाद अब चर्चा एक जैकेट की है, जिसे मोदी ने नहीं बल्कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पहना है.

नगालैंड में विधानसभा चुनाव होने हैं और इसी सिलसिले में कांग्रेसी नेता राज्य में हैं. वो चुनावी अभियान की शुरुआत करने के लिए शिलॉन्ग में थे. नीली डेनिम जींस और ब्लैक जैकेट पहने राहुल इस इवेंट में युवाओं से मिलते, बात करते दिखे.

क्या हुआ जैकेट पहनी तो?

इमेज कॉपीरइट Twitter

लेकिन उनकी तस्वीर सामने आई तो सबसे ज़्यादा चर्चा जैकेट की होने लगी.

भाजपा मेघालय ने ये तस्वीर ट्वीट की और साथ ही ई-कॉमर्स कंपनी की वेबसाइट का एक स्क्रीनशॉट भी, जिसमें उससे मेल खाती जैकेट देखी जा सकती है.

भाजपा ने तस्वीर के साथ लिखा है, ''क्यों राहुल गांधी जी, सूट (तंज़) बूट की सरकार खुले भ्रष्टाचार से मेघालय के सरकारी ख़ज़ाना साफ़ कर रहे है? हमारे तकलीफ़ों पर गीत गाने के बजाय आप मेघालय की अपनी निकम्मी सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश करते तो अच्छा रहता. आपकी ये दोहरा चेहरा हमारा मज़ाक उड़ा रहा है!''

इस पोस्ट में राहुल की तस्वीर के साथ जो जैकेट की फ़ोटो पोस्ट की गई है, उसमें ऊपर की तरफ़ बरबेरी लिखा है. साथ में लिखा है हार्टले टू-इन-वन जैकेट. और दाम लिखे हैं 995 डॉलर. अगर डॉलर-रुपए का एक्सचेंज रेट 64 मान लिया जाए तो रुपए में ये जैकेट 63 हज़ार से ज़्यादा की बैठती है.

अब बात बरबरी की. बरबरी एक ब्रिटिश लग्ज़री फ़ैशन हाउस है जिसका मुख्यालय लंदन में है. इस फ़ैशन हाउस को ट्रेंच कोट, रेडी-टू-वियर आउटरवियर, फ़ैशन एक्सेसरीज़, फ़्रैग्नेंस और कॉस्मेटिक के लिए जाना जाता है.

'फ़टे हुए कुर्ते से 65 हज़ार की जैकेट तक'

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter

इस जैकेट की तस्वीर वायरल हो गई और सोशल मीडिया पर लोग इसकी चर्चा करने लगे. स्वास्तिक बंटा हैंडल से लिखा गया है, ''राहुल गांधी के अच्छे दिन आए. फ़टे कुर्ते से सीधा 63 हज़ार की जैकेट तक.''

बींग ह्यूमर हैंडल से तंज़ कसा गया है, ''फ़टे कुर्ते से 60 हज़ार रुपए की जैकेट तक. गरीबी एक मानसिक स्थिति है.''

श्रीकांत ने नोटबंदी के दौर में राहुल गांधी के बैंक की लाइन में खड़ी हुई तस्वीर और जैकेट का ज़िक्र किया है. उन्होंने लिखा है, ''फ़टे हुए कुर्ते से लेकर सिर्फ़ चार हज़ार रुपए के लिए बैंक की लाइन में ख़ड़ा होना और अब 65 हज़ार रुपए की जैकेट''

कुछ लोगों ने किया बचाव

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter

लेकिन दूसरे लोग इस चर्चा पर भी सवाल उठा रहे हैं. कई लोगों का कहना है महंगी जैकेट की नकल स्थानीय बाज़ारों में मिलती है और उनके दाम भी काफ़ी कम होते हैं.

सुभाष पई ने लिखा है, ''ऐसा लगता है कि कई लोग राहुल गांधी के ये जैकेट पहनने का इंतज़ार ही कर रहे थे, ताकि उन पर पलटवार किया जा सके.''

प्रिया ने लिखा है, ''आज की ताजा खबर : राहुल का 70 हजारी जैकेट और रोते-बिलखते भक्तगण.''

कांग्रेस पिछले 15 साल से मेघालय में राज कर रही है. 60 सीटों वाली विधानसभा के लिए चुनाव 27 फ़रवरी को होने हैं. इसी दिन नगालैंड में भी मतदान है. मतगणना 3 मार्च को होनी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए