सलमान ख़ान के जेल जाने पर क्या बोले पाकिस्तानी?

  • 6 अप्रैल 2018
मावरा हुसैन इमेज कॉपीरइट Twitter

बॉलीवुड अभिनेता सलमान ख़ान को काला हिरण मारने पर पांच साल जेल की सज़ा मिली. कुछ लोग इसे कानून की जीत बता रहे हैं जबकि सलमान के चाहने वाले इस सज़ा से काफ़ी निराश हैं.

उनका कहना है कि ये सज़ा बहुत ज़्यादा है. भारत के साथ-साथ पाकिस्तान में भी सलमान ख़ान और उनकी सज़ा पर काफ़ी चर्चा हो रही है. कुछ लोग इसे सही बता रहे हैं और कुछ गलत.

लेकिन सबसे बड़ा और विवादित बयान पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख़्वाजा आसिफ़ ने दिया. उन्होंने कहा, ''सलमान ख़ान के साथ ऐसा भेदभाव इसलिए हो रहा है क्योंकि वो अल्पसंख्यक समुदाय से आते हैं.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

नेताओं के अलावा पाकिस्तान के सेलेब्रिटी भी सलमान के समर्थन में सामने आ रहे हैं. मावरा हुसैन ने टि्वटर पर लिखा, ''जिस दुनिया में कोई मानवाधिकार नहीं हैं, वहां एक बेहद अच्छे इंसान को कई साल पहले मारे गए एक जानवर की वजह से सज़ा दी जा रही है.''

उन्होंने लिखा, ''आप मुझे कितना भी भला-बुरा कह सकते हैं लेकिन ये बहुत गलत हो रहा है...याद रखिए इस तरह के इंसान की वजह से ही इंसानियत बची हुई है.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

पाकिस्तान के जाने-माने तेज़ गेंदबाज़ शोएब अख़्तर ने भी सलमान ख़ान को सज़ा दिए जाने पर दुख जताया है. उन्होंने लिखा, ''सलमान ख़ान को पांच साल की सज़ा होने पर काफ़ी बुरा लग रहा है.''

''लेकिन कानून अपना काम करेगा और हमें भारत के सम्मानीय कोर्ट के फ़ैसले का सम्मान करना चाहिए. लेकिन इसके बावजूद मुझे लगता है कि सज़ा कुछ ज़्यादा ही कड़ी है और उनके परिवार-प्रशंसकों के साथ मेरी दुआ है. उम्मीद है कि वो जल्द ही बाहर होंगे.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

आम पाकिस्तानी भी सलमान की सज़ा पर खुलकर राय रख रहे हैं.

एह्तेशाम उल हक़ ने लिखा, ''सलमान ख़ान बहुत ही शानदार इंसान हैं. मैंने लंदन में कुछ महीने पहले उनसे मुलाक़ात की थी और कहा था कि पाकिस्तान में आपके इतने सारे प्रशंसक हैं. आप क्यों नहीं पाकिस्तान जाकर उनसे मुलाक़ात करते. उन्होंने वादा किया था कि वो जल्द पाकिस्तान जाएंगे लेकिन अब न जाने ऐसा कब हो पाएगा.''

हसन ओवैस ने लिखा है, ''मैं पाकिस्तान से हूं और अब मैं और क्या कर सकता हूं, सिर्फ़ दुआएं. इंशाल्लाह भाई को ज़मानत मिल जाएगी.''

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट Twitter

कुछ दूसरे लोग भी हैं जो ख़्वाजा आसिफ़ की तरह सलमान की सज़ा को उनके धर्म से जोड़ रहे हैं.

इरशाद ने लिखा, ''पाकिस्तान में सभी गैर-मुस्लिम सुरक्षित हैं लेकिन भारत में मुस्लिम महफूज़ नहीं हैं. मेरा गुनाह ये नहीं कि मैंने हिरण मारा बल्कि ये है कि मैं मुस्लिम सुपरस्टार हूं.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए