फेसबुक से क्यों नाता तोड़ रहे अमरीकी नौजवान

फेसबुक इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption प्रतीकात्मक तस्वीर

अमरीकी किशोरों और फ़ेसबुक के बीच दूरियां बढ़ती जा रही हैं और उनके बीच सोशल मीडिया के दूसरे प्लेटफॉर्म लोकप्रिय हो रहे हैं.

'द प्यू रिसर्च सेंटर' के मुताबिक 13 से 17 उम्र के अमरीकी किशोरों में से सिर्फ 51 प्रतिशत फ़ेसबुक का इस्तेमाल करते हैं, जो 2015 की तुलना में 20 प्रतिशत कम है.

अमरीकी किशोरों में सबसे लोकप्रिय यूट्यूब है जिसका इस्तेमाल 85 प्रतिशत किशोर करते हैं.

प्यू सर्वे के मुताबिक, 72 फीसदी के साथ इंस्टाग्राम दूसरे और 69 प्रतिशत के साथ स्नैपचैट तीसरे नंबर पर है.

13 से 17 साल के उम्र के किशोरों के बीच सोशल मीडिया का इस्तेमाल

स्रोत- प्यू रिसर्च सेंटर

कभी सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले ट्विटर को अब सिर्फ 32 प्रतिशत किशोर इस्तेमाल करते हैं.

इस सर्वे में हिस्सा लेने वाले सिर्फ दस प्रतिशत किशोरों ने कहा कि वे किसी दूसरे सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म से ज्यादा फ़ेसबुक का इस्तेमाल करते हैं.

मार्क ज़करबर्ग फ़ेसबुक के साथ इंस्टाग्राम के भी मालिक हैं इसलिए कैलिफोर्निया स्थित उनकी कंपनी अब भी अच्छा बिजनेस कर रही है.

लेकिन यह साफ़ है कि यूट्यूब और ट्विटर के मालिकाना हक़ वाली कंपनी गूगल अब किशोरों के बीच अपनी पकड़ बना रही है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सर्वे के मुताबिक तीन साल पहले 73 प्रतिशत अमरीकी नौजवानों के पास स्मार्टफोन थे लेकिन अब यह आंकड़ा बढ़कर 95 प्रतिशत पहुंच गया है.

अध्ययन में यह भी सामने आया कि ज़्यादा आय वाले परिवार की तुलना में कम आय वाले परिवार के नौजवान फ़ेसबुक पर समय बिताना ज्यादा पसंद करते हैं

जीवन पर प्रभाव

इमेज कॉपीरइट Getty Images

किशोरों के बीच सोशल नेटवर्क से उनके जीवन पर क्या प्रभाव पड़ता है, इसका कोई साफ नतीजा प्यू सर्वे में नहीं मिल सका.

31 प्रतिशत लोगों का मानना है कि इस तरह की साइट सकारात्मक प्रभाव डालती है जबकि 24 प्रतिशत का कहना है ये नकारात्मक होते हैं. हालांकि सबसे ज्यादा आंकड़ा उन 45 प्रतिशत लोगों का है, जो मानते हैं कि ये न तो सकारात्मक प्रभाव डालते हैं और न नकारात्मक.

15 साल की एक लड़की ने कहा, "मुझे लगता है सोशल नेटवर्किंग साइट के ज़रिये आप अकेलापन महसूस नहीं करते. ये एक ऐसी जगह है जहां आप अपनी उम्र के लोगों से मिल सकते हो और बात कर सकते हो."

इसी उम्र के एक अन्य यूज़र ने कहा, "इससे असल जीवन में सामाजिक बनने में और मुश्किल होती है, क्योंकि इसके कारण आप लोगों से व्यक्तिगत रूप से नहीं मिलते."

FB की 'मौत' की भविष्यवाणियों में कितना दम?

यहां व्हॉट्सएप-फेसबुक पर सरकार ने लगाया टैक्स

क्या बच्चों को डिप्रेशन हो सकता है?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे