गौतम गंभीर: गौतम गंभीर बीजेपी में शामिल, क्या लड़ेंगे चुनाव?

  • टीम बीबीसी हिन्दी
  • नई दिल्ली
गौतम गंभीर

इमेज स्रोत, Bjp

भारतीय क्रिकेटर रहे गौतम गंभीर अब राजनीतिक पिच पर बैटिंग करेंगे. और ये बैटिंग वे भारतीय जनता पार्टी के लिए करेंगे. वे बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली और रविशंकर प्रसाद की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए. तम गंभीर ने इस मौके पर ये बताया कि वे नरेंद्र मोदी से प्रभावित होकर राजनीतिक मैदान में उतरे हैं और अब अपने देश के लिए कुछ करना चाहते हैं.

हालांकि अरुण जेटली ने इस मौके पर ये स्पष्ट नहीं किया कि गंभीर चुनाव लड़ेंगे या नहीं? उन्होंने ये कहा कि ये फ़ैसला पार्टी के फोरम पर लिया जाएगा और इसे उसी पर छोड़ना चाहिए.

अरुण जेटली ने ये भी कहा कि गंभीर की सबसे फेमस तस्वीर पाकिस्तानी क्रिकेटर से भिड़ने वाली रही है, जो उनकी खासियत रही है. दरअसल गौतम गंभीर और शाहिद आफरीदी के बीच मैदान में हुई भिड़ंत काफ़ी चर्चित रही है.

गंभीर ने ये भी बताया है कि ऐसी ही आक्रामकता की ज़रूरत हुई तो वे सड़कों पर भी दिखाएंगे.

गंभीर राजनीति के मैदान में क्या कुछ करेंगे ये तो भविष्य की बात है लेकिन खिलाड़ी के तौर पर गंभीर कई मौकों पर हीरो बनकर उभरे.

साल 2007 का टी20 फ़ाइनल. पाकिस्तान के ख़िलाफ़ कोई बल्लेबाज़ टिक नहीं पा रहा था. लेकिन सामने खड़े गौतम गंभीर ने एक छोर संभाले रखा और 75 रनों की शानदारी पारी खेलते हुए टीम इंडिया को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया.

चार साल बाद. मुंबई का वानखेड़े स्टेडियम. श्रीलंका के चुनौतीपूर्ण स्कोर का पीछा करने उतरी टीम इंडिया ने वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर का विकेट गंवा दिया था. लेकिन एक बार फिर गंभीर ने 97 रनों की पारी खेली और टीम को बिखरने नहीं दिया.

लेकिन इन दोनों मौक़ों पर महेंद्र सिंह धोनी, उनकी कप्तानी और उनके करिश्माई व्यक्तित्व ने महफ़िल लूट ली. बावजूद इसके गौतम गंभीर की इन दोनों पारियों और ऐसी कई पारियों का श्रेय उनसे छीना नहीं जा सकता.

इमेज स्रोत, .

इमेज कैप्शन,

साल 2014 में अरुण जेटली के पक्ष में प्रचार करते गौतम गंभीर

क्रिकेट में संन्यास लेने के बाद कुछ लोग उन्हें कमेंटेटर के रूप में देख रहे थे तो कुछ क्रिकेट कोच. लेकिन कुछ लोगों को अनुमान था कि वे राजनीति में भी हाथ आजमा सकते हैं.

बीजेपी में गंभीर

छोड़कर पॉडकास्ट आगे बढ़ें
पॉडकास्ट
बात सरहद पार

दो देश,दो शख़्सियतें और ढेर सारी बातें. आज़ादी और बँटवारे के 75 साल. सीमा पार संवाद.

बात सरहद पार

समाप्त

सोशल मीडिया पर लोग पहले से ही लिख रहे थे कि गंभीर भाजपा में जा सकते हैं. इसकी दो वजहें रही हैं. पहला ये कि अतीत में गंभीर भाजपा नेताओं के लिए चुनाव प्रचार कर चुके हैं. और दूसरा ये कि उनकी सोशल फ़ीड देखकर समझ आता है कि वो दिल्ली की आप सरकार, ख़ास तौर से अरविंद केजरीवाल पर सीधे और तीखे हमले करते रहते हैं. और साथ ही कांग्रेस को भी नहीं बख़्शते.

साल 2014 में वो अरुण जेटली के पक्ष में चुनाव प्रचार करने के लिए अमृतसर तक चले गए थे. और इन दिनों सोशल मीडिया पर तीर चला रहे हैं.

चार नवंबर को उन्होंने कांग्रेस नेता और पूर्व कप्तान मोहम्मद अज़हरूद्दीन की एक तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा था, ''भारतीय टीम आज भले ईडन गार्डन में जीत गई हो लेकिन बीसीसीआई, सीओए और सीएबी हार गए. ऐसा लगता है कि रविवार को भ्रष्ट के ख़िलाफ़ नो टोलरेंस पॉलिसी छुट्टी पर चली जाती है.''

कांग्रेस, आप सरकार पर हमला

इमेज स्रोत, Bjp

गंभीर बोले, वक़्त आ चुका है

गौतम गंभीर ने 58 टेस्ट मैचों में 41.95 की औसत से 4154 रन बनाए. इसमें नौ शतक और 22 अर्धशतक शामिल हैं.

इसके अलावा 147 वनडे मैचों में उन्होंने 39.68 की औसत से 5238 रन बनाए. गंभीर के वनडे में 11 इंटरनेशनल शतक और 34 फ़िफ़्टी शामिल हैं.

गंभीर ने कुल 37 टी20 मैच खेले, जिसमें उन्होंने 27.41 की औसत से 932 रन बनाए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)