फ़र्ज़ी फ़ोटो से मोदी सरकार का मज़ाक बनाने की कोशिश: फ़ैक्ट चैक

  • 15 मार्च 2019
ट्रक की नकली तस्वीर इमेज कॉपीरइट Twitter/@INCIndia

एक ट्रक की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर करके नरेंद्र मोदी सरकार पर तंज़ कसने के चक्कर में कांग्रेस पार्टी का भारी मज़ाक बन रहा है.

वर्ल्ड स्लीप डे यानी 15 मार्च के दिन कांग्रेस पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से #WorldSleepDay के साथ ट्रक की एक पुरानी तस्वीर ट्वीट की गई.

इस तस्वीर में ट्रक के पीछे लिखा है, "कृपया हॉर्न न बजाएं, मोदी सरकार सो रही है."

सोशल मीडिया पर पार्टी के इस तरह के मज़ाक की काफ़ी लोग आलोचना कर रहे हैं.

लेकिन, ऐसे लोग भी कम नहीं हैं जिन्होंने इसी तस्वीर से कांग्रेस को निशाना बना लिया है.

क्या फ़ोटो से छेड़छाड़ हुई है?

बीते कुछ महीनों में ऐसे बिल और शादी के कार्ड सोशल मीडिया पर काफ़ी शेयर किये गए हैं जिन पर मोदी की तस्वीर या उनके समर्थकों की मोदी को वोट देने की अपील छपी हुई थी.

कुछ लोग इस ट्रक की तस्वीर को उन सभी चीज़ों पर कांग्रेस का जवाब बता रहे हैं.

लेकिन, राजस्थान से पंजीकृत इस ट्रक की असली तस्वीर में ऐसा कुछ भी नहीं लिखा है जो कांग्रेस के ट्वीट में दिखाई देता है.

किसी ने एडिटिंग की मदद से इस ट्रक के पीछे एक सफेद प्लेट जोड़ी है जिस पर कुछ लिखा जा सके.

ये पहली बार नहीं है जब ट्रक की इसी तस्वीर का ऐसा इस्तेमाल किया गया हो.

रिवर्स सर्च इमेज के नतीजे बताते हैं कि फ़ोटोशॉप के ज़रिए ट्रक के पीछे न सिर्फ़ मोदी, बल्कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी के ख़िलाफ़ भी संदेश लिखे जा चुके हैं.

एक साल पहले भी दिखी थी ये तस्वीर

एक्टिविस्ट और लेखिका मधु किश्वर ने पिछले साल फरवरी में यही तस्वीर ट्वीट की थी.

इस कारण कुछ लोग सोशल मीडिया पर उनका मज़ाक बना रहे हैं. कुछ लोगों ने लिखा है कि क्या कांग्रेस और मधु किश्वर एक ही व्हॉट्सऐप ग्रुप में शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट Twitter/@madhukishwar

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार